बनारस में ड्रग्स तस्करों पर शिकंजा, DRI ने फिर पकड़ा करोड़ों का गांजा

Smart News Team, Last updated: 14/01/2021 09:25 PM IST
  • वाराणसी में डीआरआई ने एक बार फिर से करोड़ों के गांजे के साथ तस्करों को हिरासत में लिया. 12 जनवरी को डीआरआई ने ढाई करोड़ रुपए और 11 जनवरी को पौने 6 करोड़ का गांजा बरामद किया.
वाराणसी में डीआरआई ने तस्करों के साथ करोड़ों रुपए का गांजा पकड़ा. प्रतीकात्मक तस्वीर

वाराणसी. वाराणसी में राजस्व अधिसूचना निदेशालय (डीआरआई) ने एक बार फिर से गांजा पकड़ा है. मंगलवार की रात को डीआरआई ने वाराणसी के डाफी टोल प्लाजा से दो तस्करों को हिरासत में ले लिया है. डीआरआई ने तस्करों से 17 क्विंटल गांजा बरामद किया है जिसकी कीमत लगभग ढाई करोड़ रुपए है. डीएरआई हिरासत में लिए तस्करों से पूछताछ कर रही है. 

वाराणसी में इससे पहले 11 जनवरी को डीआरआई ने गांजा पकड़ा था. डीआरआई ने सोमवार को 38.5 क्विंटल गांजा बरामद किया था. इस बारे में डीआरआई अधिकारियों ने कहा कि गांजा जौनपुर के सतहरिया इंडस्ट्रियल एरिया के पास जाने वाला था. गांजा को सतहरिया इंडस्ट्रियल एरिया में कहीं उतारकर किसी गोदाम में रखा जाता फिर वहां के सप्लायर इसे दिल्ली और हरियाणा भेजते. 

आर्मी जवान ने बीवी को ऑनलाइन पैसे भेजे, साइबर ठग ने OTP पूछकर उड़ाए 90 हजार

मिली जानकारी के अनुसार, दोनों तस्कर मुरादाबाद के मूंढापांडे निवासी कासिम और रवि जमेशदपुर के परसोडीह का रहने वाला है. हिरासत में लिए गए दोनों में से एक मास्टरमाइंड का दाहिना हाथ बताया जा रहा है. तस्करों ने गांजा आंध्र प्रदेश के भद्राचलम से टक में बनी स्पेशल कैविटी में छिपाकर रखा गया था. कैविटी में एक छोटी खिड़की के बराबर के आकार की जगह थी जो खिड़की के बराबर की थी.

वाराणसी: मकर संक्रांति पर पतंग काटी तो युवकों ने की जमकर पिटाई, दो गुट भिड़े

वाराणसी में 11 जनवरी को डीआरआई ने राजातालाब में छापेमारी में पौने 6 करोड़ के गांजे के साथ दो तस्करों को हिरासत में लिया था. तस्कर गांजे पशु आहार की बोरी में छिपाकर गांजे को लेकर जा रहे थे. जिसके बाद से डीआरआई अन्य तस्करों की खोज कर रही थी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें