वाराणसी: बिजली विभाग ने वसूले 1.65 लाख का राजस्व, बिजली चोरी के लिए 10 पर FIR

Smart News Team, Last updated: Sun, 8th Nov 2020, 6:56 PM IST
  • वाराणसी में बिजली विभाग ने रविवार को शिविर लगागकर 1.65 लाख रुपए का राजस्व वसूला और बिजली चोरी करने पर 10 लोगों पर एफआईआर दर्ज कराई गई.
वाराणसी में बिजली विभाग ने लाखों रुपए वसूले. प्रतीकात्मक तस्वीर

वाराणसी. वाराणसी में बिजली विभाग बिजली की चोरी और बकाएदारों के खिलाफ चला रही है. रविवार को वाराणसी के चोलापुर में उपभोक्ताओं के लिए लगाए गए शिविर में लाखों रुपए का राजस्व वसूला गए. वहीं बिजली चोरी करने वाले 10 उपभोक्ताओं के खिलाफ एफआईआर की गई है.

इस कार्रवाई को लेकर बिजली विभाग के उपखंड अधिकारी ई. उपेन्द्र कुमार ने कहा कि रविवार को चले अभियान के तहत 1 लाख 65 हजार रुपए राजस्व वसूला गया. वहीं दो दर्जन विद्युत बकायेदारों का विद्युत कनेक्शन काटने के साथ विद्युत चोरी करने वाले 10 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया गया है.

वाराणसी में 9 नवंबर को 30 परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे PM नरेंद्र मोदी

बिजली विभाग के द्वारा लगाए गए इस कैंप में लोगों की समस्याओं को निस्तारण किया गया. जिसमें बिजली बिल और खराब मीटर के बदलने जैसी विद्युत समस्याओं का तत्काल समाधान किया गया. इस मौके पर अधिशाषी अभियंता अभिषेक सिंह यादव, विद्युत उपखंड अधिकारी उपेन्द्र कुमार, सहायक अभियंता मदन गोपाल श्रीवास्तव, अवर अभियंता नारायण सिंह, शिववचन यादव, अवधेश यादव, नीरज कुमार, विनोद पटेल, रमेश कुमार, अरुण कुमार और दिलीप समेत सभी विद्युत कर्मचारी मौजूद रहे. 

वाराणसी: सोमवार को किसान कल्याण केंद्र का वर्चुअली लोकार्पण करेंगे PM मोदी

हाल ही बिजली बिलों को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने एक बयान जारी किया था. जिसमें उन्होंने कहा था कि पूरे उत्तर प्रदेश में बिजली के बढ़ते बिलों और बिजली मीटरों का आतंक व्याप्त है. जिससे पूरे प्रदेश में हाहाकार मचा हुआ है. उन्होंने प्रदेश सरकार से तीन मांग की. जिसमें किसानों को मिल रही बिजली रेट को तत्काल प्रभाव से हाफ किया जाए. बिजली मोटरों को सच सामने लाया जाए और दोषियों पर कार्यवाही. तीसरी मांग है कि बुनकरों-दस्तकारों, छोटे लघु उद्योगों को बिजली भुगतान में रियायत दी जाए.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें