वाराणसी: मुख्तार के करीबी मेराज अहमद के बहनोई और भाई पर रंगदारी का केस दर्ज

Smart News Team, Last updated: 10/10/2020 03:18 PM IST
  • वाराणसी के कैंट थाने में एक महिला ने मऊ विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी मेराज अहमद के बहनोई और तीन भांजों के खिलाफ रंगदारी मांगने के आरोप में केस दर्ज कराया है.
वाराणसी: मुख्तार के करीबी मेराज अहमद के बहनोई और भाई पर रंगदारी का केस दर्ज

वाराणसी. कैंट थाने में एक महिला ने रंगदारी मांगे जाने को लेकर जान से मारने की धमकी का केस विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी मेराज अहमद के बहनोई और तीन भांजों के खिलाफ दर्ज कराया है. महिला का आरोप है कि इन सभी ने जबरदस्ती मकान पर कब्जा करने की कोशिश की और रास्ते में रोककर मकान उनके नाम करने का दबाव बनाया. बात ना मानने पर 10 लाख रुपए की रंगदारी मांगी और मारने की धमकी दी.

नदेसर की रहने वाली महिला का नाम रुखसाना बेगम है. इनके पति नहीं है. उन्होंने बताया की कुछ साल पहले किराए पर रहने के लिए मेराज के बहनोई इरशाद खान के साथ 3 भांजे शमशाद, खुर्शीद और परवेज आए थे तभी से इन्होंने मकान पर हक जमाने का प्रयास करना शुरू कर दिया था. जनवरी में नदेसर वाले मकान को अपने नाम करवाने के लिए जबरदस्ती दबाव बनाकर नक्खीघाट पर मकान दिखाया गया. 

मुख्तार के करीबी मेराज ने किया सेरेंडर, फर्जी शस्त्र लाइसेंस मामलें में था फरार

इसके बाद से महिला अपने तीन बच्चों के साथ कहीं और रहने लगी. 3 सितंबर को घर वापस लौटने के बाद जब वह नदेसर से सदर बाजार बाबा बहादुर शहीद मजार जाने लगी तो चर्च के पास इरशाद खुर्शीद और परवेज ने रंगदारी की और जान से मारने की धमकी दी. इस आधार पर शुक्रवार को कैंट पुलिस ने रुखसाना की शिकायत के आधार पर केस दर्ज किया. परवेज कैंट थाने का हिस्ट्रीशीटर है.

मुख्तार गैंग से जुड़े मछली कारोबारी के खिलाफ योगी सरकार की कार्रवाई, 2 वाहन जब्त

शुक्रवार को शातिरों के बीच हड़कंप तब मचा जब पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने गैंगस्टर एक्ट के तहत अपराधिक गतिविधियों में मुख्तार अंसारी गिरोह के 25 शातिरों पर गैंग बनाकर मुकदमा किया. इसमें मऊ स्थित दक्षिण टोल थाना पुलिस से 6, कोपागंज पुलिस से 3, सरायलखंसी और मधुबन पुलिस से दो-दो, घोसी पुलिस से नो और मुहम्मदाबाद पुलिस से 3 शातिरों पर गैंगस्टर कार्रवाई की गई.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें