वाराणसीः फर्जी कागजात दिखा बेच दी डेढ़ करोड़ की जमीन, एक ठग अरेस्ट, 2 फरार

Smart News Team, Last updated: 04/10/2020 07:35 PM IST
  • वाराणसी मे फर्जी दस्तावेज के सहारे जमीन बेचकर डेढ़ करोड़ रुपए ऐंठने वाले शातिर बदमाश को पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार कर लिया है. 8 महीने पुराने मामले में 2 आरोपी अब भी फरार हैं. 
वाराणसी में डेढ़ करोड़ की ठगी करने वाले शातिर को पुलिस ने अरेस्ट किया.

वाराणसी. वाराणसी में फर्जी ढंग से आठ करोड़ ऐंठने वाले जालसाज को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. आठ महीने पुराने इस मामले में रविवार को पुलिस ने शातिर बदमाश को उसके घर से दबोचा. पुलिस ने हेराफरी करने वाले इस बदमाश को जेल भेज दिया है. इस मामले में 2 आरोपी अब भी फरार हैं. 

ये मामला वाराणसी के पिंडरा इलाके का है. यहां 8 महीने पहले कमलेश पांडेय और उसकी सास ने महमूरगंज निवासी डॉक्टर को वाराणसी-जौनपुर राजमार्ग पर कैथोली में एक बीघा जमीन दिखाई. फर्जी कागजात और दस्तेवाज के सहारे उस 1 बीघा जमीन को अपनी बताकर डॉक्टर को डेढ़ करोड़ में बेच दिया. 

UP में 9-10वीं कक्षा छात्रों के लिए OBC स्कॉलरशिप भरने का मौका, जानें टाइम टेबल

जब डॉक्टर उस जमीन पर कब्जा करने पहुंचा तो पता चला कि वो जमीन तो किसी और की है. जालसाज ने नकली दस्तावेज के सहारे डॉक्टर से डेढ़ करोड़ रुपए ऐंठ लिए. जिसके बाद डॉक्टर ने पुलिस थाने में महिला समेत तीन लोगों के खिलाफ धारा 419, 420, 467, 468 और 471 के तहत मुकदमा दर्ज कराया. जिसके बाद पुलिस शातिरों की खोज करती रही.

मुख्तार के करीबी मेराज ने किया सेरेंडर, फर्जी शस्त्र लाइसेंस मामलें में था फरार

करीब आठ महीने के बाद रविवार को पुलिस को जालसाज की सूचना मिली. जिसके बाद एसआई धीरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में पुलिस ने आरोपी कमलेश पांडेय पुत्र रामलोचन पांडेय सभईपुर थाना शिवपुर को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया. इस मामले के दो आरोपी अब भी फरार हैं. पुलिस उनकी खोज में लगी हुई है. आरोपी को पकड़कर जेल भेज दिया गया है. फूलपुर इंस्पेक्टर सनवर अली ने कहा कि एक कूट रचित दस्तेवाज के सहारे महमूरगंज निवासी चिकित्सक को एक बीघा जमीन डेढ़ करोड़ में बेचकर धन ऐंठ लिया.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें