BHU अधिकारी से 5 लाख की धोखाधड़ी, वापिस मांगा तो मिली जान से मारने की धमकी

Smart News Team, Last updated: Fri, 13th Nov 2020, 11:13 AM IST
  • वाराणसी के बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के भीतर पड़ने वाले अस्पताल के सहायक और प्रशासनिक अधिकारी से पांच लाख का हेरफेर हो गया है. जिसके चलते पीड़ित ने पुलिस में केस दर्ज करा दिया है.
बीएचयू के एक अधिकारी से 5 लाख की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है.

वाराणसी. काशी हिंदू विश्वविद्यालय के सरसुंदर अस्पताल के सहायक कुलसचिव और प्रशासनिक अधिकारी पंचम ने जमीन दिलाने के नाम पर पैसों की हुई हेरफेर में गुरुवार को उन्होंने लंका थाने में मुकदमा दर्ज करायाहै. यह मामला ओल्ड जोधपुर कॉलोनी में रहने वाले अधिकारी प्रकाश रावत का है. कुछ दिन पूर्व जमीन दिलाने के नाम पर उनसे मनीष गुप्ता ने पांच लाख रुपए ऐंठ लिए थे. जिसके चलते पुलिस ने मनीष के साथ अन्य के विरुद्ध धोखाधड़ी और धमकी के आरोप में कई धाराएं के साथ केस दर्ज कर लिया है.

बता दें कि मनीष बड़गांव के खरावन में रहता है. अधिकारी का आरोप है कि दिलदार नगर में रहने वाले उनके दूर के रिश्तेदार शेषनाथ रावत ने वर्ष 2019 में उन्हें जमीन दिलाना का वादा किया. फिर शेषनाथ ने अपना दिमाग दौड़ाते हुए काफी हेरीफेरी की साजिश रची. जिसके चलते उसने मनीष का नाम जमीन दिलाने के लिए मनीष को आगे लाया. वह पीछे-पीछे इस पर कार्य करता रहा. जब अधिकारी से बात तय हो गई तो शेषनाथ ने मनीष के जरिए पैसे की मांग की. जिसके बाद अधिकारी ने उन्हें पांच लाख रुपये जमीन खरीदने के लिए अदा कर दिए.

वाराणसी: संपत्ति विवाद में भेलूपुर पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया

इसके बाद अधिकारी ने पाया कि उससे तो रिश्तेदार और मनीष ने उससे 5 लाख रुपये ऐंठ लिए. जिस जमीन की बात हुई थी वो तो दिलाई ही नहीं. फिर इस पूरे खेल को भांपते हुए उन्होंने अपने रुपयों की दोबारा मांग की. तब दोनों ने रुपए न देने की बात कहकर अधिकारी को जान से मारने की धमकी दी. इस बात पर अधिकारी ने दोनों के विरुद्ध लंका थाने में शिकायत कर दी.

लड़की नाबालिग होने की सूचना पर रुकवाई शादी, आयु प्रमाण पत्र से हुआ बड़ा खुलासा

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें