IIT BHU को मिले स्कॉलरशिप के लिए 15 करोड़ रुपये, 1989 बैच के छात्र ने दी रकम

Indrajeet kumar, Last updated: Fri, 12th Nov 2021, 10:38 AM IST
  • बीएचयू के 1989 बैच के छात्र निकेश अरोड़ा ने आइआइटी बीएचयू फाउंडेशन को 15 करोड़ रुपये दान में दिए हैं. इस पैसे का इस्तेमाल आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप देने के लिए किया जाएगा. निकेश फिलहाल अमेरिका में साइबर सुरक्षा कंपनी पालो अल्टो नेटवर्क्‍स के सीईओ हैं.
आईआईटी बीएचयू के 1989 बैच के छात्र निकेश अरोड़ा

वाराणसी. बीएचयू के पूर्व छात्र निकेश अरोड़ा ने आइआइटी बीएचयू फाउंडेशन को 15 करोड़ रुपये दान में दिए हैं. निकेश फिलहाल अमेरिका में साइबर सुरक्षा कंपनी पालो अल्टो नेटवर्क्‍स के सीईओ के पद पर तैनात हैं. निकेश के दिए पैसे को आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को पढ़ाई में मदद के लिए छात्रवृत्ति दी जाएगी. 1989 बैच में तत्कालीन आईआईटी के छात्र रहे निकेश की दरियादिली पर आईआईटी बीएचयू फाउंडेशन ने उनका आभार जताया है. छात्रवृत्ति का प्रबंधन आईआईटी बीएचयू फाउंडेशन छात्रवृत्ति समिति द्वारा किया जाएगा. इसके अध्यक्ष कुमार जयंत होंगे. साथ ही इस समिति में संस्थान के डीन भी होंगे.

निकेश अरोड़ा ने आईआईटी बीएचयू से 1989 इलेक्ट्रिकल व इलेक्ट्रानिक्स इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन पास किया था. उन्होंने कहा कि आईआईटी बीएचयू इंजीनियरिंग के क्षेत्र में कैरियर बनाने के लिए एक स्प्रिंगबोर्ड मुहैया कराता है. योग्य विद्यार्थियों को मदद करना हमारे लिए सम्मान की बात है. उन्होंने कहा कि पालो आल्टो नेटवक्र्स के साथ, मुझे आइआइटी बीएचयू का सहयोग करने पर गर्व महसूस हो रहा है. उन्होंने आगे कहा कि मेरी तरह कई और पुराने छात्र संस्थान की छात्रों की मदद करने के लिए आगे आए. कुल दो मिलियन डालर के दान में से एक मिलियन डालर उनकी कंपनी पालो आल्टो नेटवक्र्स ने दिए हैं जबकि एक मिलियन निकेश ने अपनी ओर से दिए हैं. इस दान के लिए उन्होंने अपने एक वर्ष का वेतन छोड़ने का फैसला लिया है. निकेश ने इससे पहले 2020 में वैश्विक कोविड राहत कोष में भी दान दिया था.

विद्युत संविदा मजदूर संगठन का ऐलान, मांगे पूरी नहीं हुई तो 12 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन धरना

 निकेश ने कहा है कि एक्सेस फंड का नाम उनके नाम पर न रखा जाए. फाउंडेशन के अध्यक्ष अरुण त्रिपाठी ने कहा कि निकेश इस बात के मिसाल हैं कि आइआइटी बीएचयू कितना कुछ कर सकते हैं. आइआइटी बीएचयू के निदेशक प्रो. प्रमोद कुमार जैन और बोर्ड आफ गवर्नर्स ने भी निकेश के प्रति आभार जताया है. प्रो. जैन ने कहा किप्रो. जैन ने कहा कि इस फंड से संस्थान की प्रतिष्ठा बढ़ेगी. साथ ही ये फंड योग्य छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दिलाने में मदद करेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें