वाराणसी: अवैध कॉलोनी पर चला प्रसाशन का डंडा, धव्स्त किए गए मकान

Smart News Team, Last updated: 04/12/2020 05:32 PM IST
वाराणसी निर्माण प्राधिकरण ने पर्यटन स्थल सारनाथ में स्थित अरिहंत नगर में बन रही अवैध कॉलोनी के निर्माण को ध्वस्त कर दिया है. इसी कार्रवाई को लेकर खरीददारों ने अपना विरोध भी जताया.
जेसीबी द्वारा वीडीए ने की कार्रवाई

वाराणसी: सारनाथ में सिंहपुर के अरिहंत नगर में वीडीए ने 25 बीघे पर बनी अवैध कॉलोनी को धवस्त कर दिया. इस कार्रवाई को देखते हुए खरीददारों ने वीडीए से पहले गुहार लगाई और फिर अधिकारियों के ना मानने पर उनसे बहस भी की. वहीं, इस मामले पर वीडिए जोनल अधिकारी वी पी मिश्रा ने बताया कि गोपनीय तरीके से इस बात का पता चला था, जिसके बाद कॉलोनी बनवाने वाले व्यक्ति पर मुकदमा दर्ज करवा दिया गया था. उन्होंने कहा कि कार्रवाई के अतिरिक्त बचे हुए मकानों को भी नोटिस दी जाएगी और फिर उन पर ऐसा ही हथौड़ा चलेगा.

वहीं, अरिहंत नगर में अवैध कॉलोनी विकास हुआ था, तब स्थानीय लोगों ने विरोध भी किया था. लोगों के मुताबिक, अवैध कॉलोनी को विकसित करने के लिए ग्राम सभा के रास्ते को घेर लिया गया था. इन कॉलोनियों का निर्माण करा रहे महेंद्र गौतम ने सिंहपुर की निवासी पूनम राजभर को सभा के सार्वजनिक रास्ते बंद करने के लिए डराया और धमकाया था. 

MLC चुनाव में बीमार IAS की पत्नी को योगी सरकार ने हेलिकॉप्टर से बनारस पहुंचाया

पूरे प्रकरण से आहत पूनम ने उच्चाधिकारियों के सामने अपनी गुहार लगाई लेकिन, किसी ने उसकी एक ना सुनी. पीड़िता ने बताया कि रास्ते के बंद हो जाने के कारण आने-जाने में दिक्कत होती है. महेंद्र गौतम यहीं नहीं रुका अवैध निर्माण के लिए उसने ग्राम सभा में पड़ने वाली शुशीला कुमारी की जमीन पर नीम पेड़ों को भी कटवाया और फिर, इसे बेच दिया. 

एमएलसी चुनाव: वाराणसी शिक्षक निर्वाचन पद पर सपा के लाल बिहारी यादव विजयी घोषित

मामले में वीडीए जेई पी एन दुबे ने कहा कि स्थानीय लोगों ने वाइस चेयरमैन को अवैध कालोनी को लेकर लिखित पत्र देकर उन्हें अवगत कराया था. फिर जांच हुई तो अवैध निर्माण के पता चलने पर इन्हें आज ध्वस्त किया गया. उन्होंने आगे बताया कि यह निर्माण कार्य कृषि योग्य भूमि पर हो रहा था.

स्मार्ट मीटर में गड़बड़ी जांच के लिए देने होंगे 175 रुपए, डिस्कॉम MD का आदेश

वाराणसी: अंडरपास बनवाने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने किया जमकर प्रदर्शन, हंगामाममममममम

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें