वाराणसी: गंगा में नाव हादसे में 3 शव मिले, अभिषेक अभी भी लापता

Smart News Team, Last updated: 07/12/2020 08:10 PM IST
गंगा में नाव पलटने के कारण लापता लोगों में से सोमवार शाम को शहनवाज का शव बरामद हुआ. जिसकी शिनाख्त बजरडीहा निवासी के रुप में हुई है. इसके पूर्व आज ही विशाल और जुनैद का शव मिला था. लेकिन, अब तक अभिषेक मौर्य का शव नहीं मिल सका है.
परिजन पुलिस अधिकारियों से बात कर जानकारी दे रहे हैं.

वाराणसी: रविवार को गंगा में नाव पलटने के कारण गुम हुए 4 लोगों में से बजरडीहा निवासी शहनवाज का शव सोमवार की शाम को मिला है. इससे पहले सुबह में विशाल सिंह और जुनैद के शव को अलग-अलग घाटों पर बरामद किया गया था. जिसके बाद इस बात को सिरे से खारिज कर दिया गया कि दो युवक ही लापता हुए थे. इस मामले पर अभी पुलिस का कोई भी अधिकारी जवाब देने को तैयार नहीं है. वहीं, अभिषेक मौर्य के परिजन का भी उसके शव ना मिलने पर रो-रोकर बुरा हाल हो गया है.

आपको बता दें कि शहर के ही पांच दोस्त पिशाचमोचन निवासी सौम्या, भोजूबीर के विशाल सोनकर, सुंदरपुर की छात्रा, लक्ष्मणपुर के अभिषेक मौर्या और विशाल सिंह रामनगर की तरफ गंगा की रेती में घूमने के लिए गए थे. जहां वे सभी गंगा पार कर भदैनी की ओर वापस नाव ले आ रहे थे. इसी दौरान नाव में छह और युवक भी सवार हुए थे. 

वाराणसीः नौका विहार करने गए लोगों की नाव गंगा में पलटी,घटना का जायजा लेने DM पहुंचे

फिर नाव आगे बढ़ी तो एक युवक सेल्फी लेने के कारण गंगा में गिरा. जिसके बाद सभी लोग उसे देखने और बचाने के नाव की एक तरफ आ गए. इसके बाद तो नाव में एक और भार बढ़ने से उसमें पानी भरने लगा और धीरे-धीरे नाव पानी में समा गई.

लखनऊ फुटबॉल लीग में खेल रहे हैं नाइजीरिया के दस विदेशी खिलाड़ी

इतने में आवाज सुनते ही अन्य नाविकों ने फौरन बचाव कार्य शुरू किया. जिसके कारण 11 में से 8 लोगों को बचा लिया गया है. लेकिन, विशाल, जुनैद, शहनवाज के शव बरामद हुए. लोगों की खोजबीन के लिए देर रात से एनडीआरएफ, जल पुलिस और पीएसी के जवान तैनात थे. इन्होंने भी अपनी जी-जान लगा दी लेकिन, अभिषेक मौर्य का अभी तक पता नहीं चल सका है.

वाराणसी में सब्जी विक्रेता से खिलौने वाली पिस्तौल के बल पर हुई 4.57 लाख की लूट

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें