13 दिसंबर को काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे PM मोदी, Photos में देंखे भव्यता

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Fri, 3rd Dec 2021, 7:15 PM IST
  • वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर का पुननिर्माण को अब अंतिम रूप दिया जा रहा है. काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की अब फोटोज भी सामने आने लगी है. जिसमें उसकी भव्यता देख आंखे खुली की खुली रह जाएगी.
13 दिसंबर को काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे PM मोदी, Photos में देंखे इसकी भव्यता

वाराणसी. उत्तर प्रदेश के वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर का पुननिर्माण किया जा रहा है. काशी विश्वनाथ मंदिर का पुननिर्माण को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट माना जा रहा है. काशी विश्वनाथ कॉरिडोर को अब अंतिम रूप दिया जा रहा है. वहीं इसके बचे हुए अन्य कार्यों को तेजी से निपटाया जा रहा है. क्योंकि इसका लोकार्पण 13 दिसंबर को प्रस्तावित है. जिसे पीएम मोदी के द्वारा किया जाएगा. वहीं अब काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की तस्वीरें भी अब सामने आने लगी है. जिसमें काशी विश्वनाथ मंदिर की भव्यता और भी बढ़ी हुई दिखाई दे रही है. 

काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के लोकार्पण के बाद 14 दिसंबर से 13 जनवरी तक पूरे एक महीने चलो काशी के नाम से महोत्सव भी मनाया जाएगा. इस महोत्सव की थीम काशी विश्वनाथ धाम की होगी. जिसमें संगीत, साहित्य, बुक फेयर, ट्रेड फेयर, कृषि आधारित सम्मेलन समेत अन्य कई कार्यक्रम होंगे. इसके साथ ही पूरे एक महीने काशी में इस महोत्सव के दौरान कई प्रतियोगिता भी आयोजित की जाएगी.

काशी विश्वनाथ कॉरिडोर फोटो

वाराणसी: एडीजी सिक्योरिटी ने श्री काशी विश्वनाथ धाम के नए सुरक्षा व्यवस्था का लिया जायजा

काशी विश्वनाथ मंदिर के पुननिर्माण में परिसर के दायरे को 5 लाख 27 हजार 730 वर्गफीट तक बढ़ाया गया है. साथ ही यहां मंदिर परिसर, चौक, पाथवे से संलग्न 23 बिल्डिंग बनाई जा रही है. साथ ही 3 यात्री सुविधा केंद्र, एक टूरिस्ट फैसिलिटेशन काउंटर समेत अन्य कई महत्वपूर्ण इमारते बनाई जा रही है.

काशी विश्वनाथ कॉरिडोर फोटो

इसके अलावा दिव्यांगों, वृध्दों के लिए रैंप और एक्सकेलेटर की सुविधा दी गई है. बता दें कि काशी विश्वनाथ मंदिर का पुननिर्माण इंदौर की महारानी अहिल्याबाई होल्कर ने करवाया था. फिर उनके बाद महाराज रणजीत सिंह ने मंदिर का पुननिर्माण करवाया था.

काशी विश्वनाथ कॉरिडोर फोटो
आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें