जेल में बंद बिल्डरों की पैरवी करने पर वकील को जान से मारने की धमकी, FIR दर्ज

Smart News Team, Last updated: 04/03/2021 07:07 PM IST
  • अधिवक्ता ने बताया की सुभाष ठाकुर ने उन्हें फोन पर भद्दी-भद्दी गालियां दी और जान से मारने की धमकी दी. माफिया सुभाष ठाकुर और उसके दो गुर्गों के खिलाफ चेतगंज थाने में अधिवक्ता को जान से मारने की धमकी का मुकदमा दर्ज किया गया है
जेल में बंद बिल्डरों की पैरवी करने पर वकील को जान से मारने की धमकी, FIR दर्ज

वाराणसी: संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में गुरुवार की सुबह टहल रहे वकील धीरज तिवारी को दो बदमाशों ने रोका और फोन पर माफिया सुभाष ठाकुर से बात कराई अधिवक्ता ने बताया की सुभाष ठाकुर ने उन्हें फोन पर भद्दी-भद्दी गालियां दी और जान से मारने की धमकी दी. माफिया सुभाष ठाकुर और उसके दो गुर्गों के खिलाफ चेतगंज थाने में अधिवक्ता को जान से मारने की धमकी का मुकदमा दर्ज किया गया है. धमकी मिलने के बाद डरे-सहमे अधिवक्ता ने एसएसपी अमित पाठक से फोन पर बातचीत कर पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी. 

एसएसपी के निर्देश पर चेतगंज थाने की पुलिस ने अधिवक्ता से संपर्क किया. और तहरीर लेकर मुकदमा दर्ज कर लिया है. अधिवक्ता ने आरोप लगाया है कि सुभाष ठाकुर ने अपने गुर्गों के जरिये फोन से एक मुकदमे के प्रकरण में पैरवी न करने की धमकी दी. जगतगंज निवासी अधिवक्ता धीरज तिवारी जेल में बंद बिल्डर रविंद्र मौर्या और नीतू त्रिपाठी की पैरवी करते हैं. अधिवक्ता ने तहरीर में बताया है कि रोज की तरह सुबह वह संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में टहलने गये थे. 

लड़की को जबरन उठाकर पहले की शादी फिर रेप करने के बाद वापस छोड़ दिया घर, केस दर्ज

तभी एक पल्सर बाइक से दो युवक आये. बाइक चला रहा युवक हेलमेट पहना था, जबकि पीछे बैठा 22 साल के युवक का चेहरा खुला था. पीछे से धीरज तिवारी बोलकर पुकारा और रोका रुकने के बाद अधिवक्ता के कान पर मोबाइल सटाकर बोला कि कोई बात करना चाहता है. उधर से आवाज आई कि 'मैं सुभाष ठाकुर बोल रहा हूं. दो बार तुमको मैंने मैसेज भेजवाया कि रविंद्र और नितुआ की पैरवी छोड़ दो लेकिन तुम नहीं मान रहे. ' इसके बाद भद्दी गाली देते हुए देकर कहा कि अगली बार यही लड़के जाएंगे और तुमको जान से मार देंगे. यह अंतिम चेतावनी है. अधिवक्ता ने उन दोनों लड़कों के पास हथियार होने की संभावना जाहिर की.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें