कोरोना के कारण भगवान जगन्नाथ रथयात्रा नहीं निकली, भक्तों ने बाहर से किया दर्शन

Smart News Team, Last updated: Mon, 12th Jul 2021, 3:30 PM IST
  • वाराणसी में भगवान जगन्नाथ का रथ यात्रा नहीं निकाला जा सका. रथ यात्रा न निकलने के पीछे कोविड 19 को कारण बताया गया. फिलहाल भगवान जगन्नाथ के भक्त ने वाराणसी के अस्सी पर स्थित जगन्नाथ मंदिर में सोमवार को दर्शन किया.
भगवान जगन्नाथ, सुभद्रा और वलभद्र .(फाइल फोटो)

वाराणसी : जगत के पालनहार भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा काशी से इस बार नहीं निकली. भगवान जगन्नाथ की यात्रा आषाढ़ महीने के शुल्क पक्ष तृतीया तारीख को निकलता है. इस रथयात्रा में हजारों में भक्तों भगवान जगन्नाथ के दर्शन करने के लिए आते थे. कोरोना संक्रमण के कारण रद्द हुए इस रथयात्रा से भगवान जगन्नाथ के भक्त काफी मायूस है. पिछले साल भी भगवान जगन्नाथ की यात्रा कोविड-19 की वजह से टाल दी गए थी.

फिलहाल इस बार भक्तों ने भगवान जगन्नाथ के अस्सी घाट के पास वाले जगरनाथ मंदिर के बाहर से ही दर्शन और पूजन पाठ किया. भक्तों ने सोमवार सुबह से ही भगवान जगन्नाथ के दर्शन के लिए आना शुरू कर दिया था. भक्तों के लिए निराशा वाली बात यह रही की मंदिर के गेट को बंद किया गया था. इस लिए भक्त मंदिर के बाहर से ही अपने आराध्य जगन्नाथ का दर्शन किया. भक्त आज के दिन विशेष तौर पर सजे हुए भगवान जगन्नाथ को देखने की इच्छा से आते हैं.

वाराणसी: अन्नपूर्णा मंदिर के महंत रामेश्वर पुरी का 70 साल की उम्र में निधन

अस्सी घाट के जगन्नाथ मंदिर में सोमवार के दिन पुजारी राधेश्याम पाण्डेय ने मंदिर में स्थापित भगवान जगन्नाथ सुभद्रा और बलभद्र की आरती की. आरती के पूर्व तीनों आराध्य देवों को पितांबरी के वस्त्र पहनाकर तीनों राज्यों को फूल से सजाया गया. भगवान के भोग के लिए भी स्पेशल तैयारी की गई थी. भोग में भगवान के लिए मौसमी फल, हलवा और पूड़ी सब्जी रखा गया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें