काशी विद्यापीठ के छात्रों को सेमेस्टर से पहले देनी होगी 25 अंकों की मिड टर्म परीक्षा

Uttam Kumar, Last updated: Tue, 2nd Nov 2021, 12:00 PM IST
  • महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में स्नातक छात्रों के लिए नवंबर के अंतिम सप्ताह में मिड-टर्म परीक्षा आयोजित किया जाएगा. वहीं सेमेस्टर परीक्षाएं दिसंबर के अंतिम सप्ताह में कराने पर विचार किया जा रहा है. अब छात्रों को 25 अंकों की मिड टर्म व 75 अंकों की सेमेस्टर परीक्षाएं देनी होगी. 
महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ. फाइल फोटो

वाराणसी. महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ(MAHATMA GANDHI KASHI VIDYAPITH) अब स्नातक में पढ़ने वालों छात्र- छात्राओं के लिए समेस्टर परीक्षा से पहले मिड टर्म परीक्षा आयोजित करेगी. इस साल मिड टर्म परीक्षा नवंबर के अंतिम सप्ताह में आयोजित की जाएगी. वहीं सेमेस्टर परीक्षाएं अगले माह दिसंबर के अंतिम सप्ताह में करवाया होगा. छात्रों को अब 25 अंकों की मिड टर्म और 75 अंकों की सेमेस्टर परीक्षाएं ली जाएगी. 

राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ ने स्नातक के मिड टर्म परीक्षा आयोजित करवाने के लिए वाणिज्य संकाय(commerce stream) के प्रो. सुधीर कुमार शुक्ला की अध्यक्षता में एक छह सदस्यीय समिति का गठन किया था. सोमवार को इस समिति की पहली बैठक बुलाई गई थी. इस बैठक में यह निर्णय लिया गया कि सेमेस्टर परीक्षा से पहले वर्ष में दोबार मिड-टर्म की परीक्षाएं कराई आयोजित की जाएंगी. विश्वविद्यालय में मिड-टर्म परीक्षा कराने की जिम्मेदारी विभागाध्यक्ष पर होगी जबकि इससे संबंधित कालेज अपने स्तर पर मिड-टर्म परीक्षा आयोजित कराएंगे. 

UP: कालेजों के 4 हजार से अधिक एसोसिएट प्रोफेसर को दिवाली उपहार,प्रोफेसर के पद पर प्रोन्नत

25 अंकों की होने वाली परीक्षा में सभी छात्र – छात्राओं को शामिल होना अनिवार्य होगा. मिड-टर्म परीक्षा और सेमेस्टर परीक्षा के अंक को मिलाकर फाइनल रिजल्ट तैयार किया जाएगा. रिजल्ट में भी इस अंक का उल्लेख मिड-टर्म के नाम से किया जाएगा. प्रो. सुधीर कुमार शुक्ला की अध्यक्षता वाली समिति इससे संबंधित जल्द रिपोर्ट कुलपति को सौपेंगे. जिसके बाद इस रिपोर्ट के आधार पर इससे संबधित सभी कालेजों को मिड टर्म परीक्षा के लिए निर्देश जारी किया जाएगा. बैठक में छात्र कल्याण संकायाध्यक्ष डा. बंशीधर पांडेय, प्रो. संजय, सहायक कुलसचिव हरीशचंद, अधीक्षक अरिंदम श्रीवास्तव, चंद्रशेखर पांडेय सहित अन्य लोग उपस्थित थे. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें