वाराणसी: चोरी के आरोप और पिता की डांट से नाराज नाबालिग ने ट्रेन के आगे लगाई छलांग

ABHINAV AZAD, Last updated: Sat, 4th Dec 2021, 3:04 PM IST
  • वाराणसी में मोबाइल चोरी के आरोप और पिता की डांट-फटकार के बाद नाबालिग ने बाबतपुर रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली. मृतक नाबालिग की शिनाख्त फूलपुर थाना क्षेत्र के मंगारी बाजार निवासी मनीष के रूप में हुई है.
मृतक नाबालिग मनीष फूलपुर थाना क्षेत्र के मंगारी बाजार का रहने वाला है.

वाराणसी. फूलपुर थाना क्षेत्र के मंगारी बाजार निवासी एक नाबालिग पर चोरी का आरोप लगा. जिसके बाद नाबालिग के पिता ने डांट लगाई. इस डांट से परेशान नाबालिग युवक ने ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी. बताया जा रहा है कि नाबालिक अपने मां-बाप का इकलौता वारिस था. उसकी मौत के बाद से पूरा पिरवार सदमे में है. घटना शनिवार सुबह की है. सूचना मिलने के बाद जीआरपी की टीम मौके पर पहुंची. जीआरपी ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है.

मिली जानकारी के मुताबिक, मंगारी बाजार निवासी संतोष राजभर के पुत्र मनीष पट्टीदारों ने मोबाइल चोरी करने का आरोप. शुक्रवार शाम बाजार में पट्टीदारों ने पूछताछ शुरू कर दी, इस दौरान लोगों की भीड़ लग गई. भीड़ देखने के बाद गश्ती टीम मौके पर रूक गई. जब पुलिस ने नाबालिग से मोबाइल के बारे में पूछा तो उसने कहा कि मोबाइल गिरा हुआ था, जो उलने उठा लिया. नाबालिग ने बताया कि मोबाइल उसके बैग में रखा हुआ है. जिसके बाद उसने मोबाइल दे दिया.

फर्जी सीबीआई इंस्पेक्टर बनकर वसूली करने वाले कृष्ण पाल की जमानत याचिका खारिज

मिली जानकारी के मुताबिक, मोबाइल मिल जाने के बाद सब लोग वहां से चले गए. लेकिन शाम को जब वह अपने घर पहुंचा तो पिता ने चोरी का बात पर डांट फटकार लगाई. इस बात से नाराज नाबालिग ने शनिवार सुबह बाबतपुर रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली. बताया जा रहा है कि जीआरपी पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेने के बाद बिना शिनाख्त किए ही पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. सुबह जब आसपास के लोगों को फोटो दिखाई गई तो मृतक की पहचान मनीष के रूप में हुई.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें