MLC चुनाव ऑब्ज़र्वर सीनियर IAS अजय कुमार का निधन, CM योगी ने दी श्रद्धांजलि

Smart News Team, Last updated: 05/12/2020 05:22 PM IST
  • मॉर्निंग वॉक दौरान आईएएस अजय कुमार अचानक से बेहोश होकर गिर पड़े थे जिसके बाद उन्हें वाराणसी के निजी हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया. उनकी गंभीर हालात को देखते हुए डॉक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर पर रखा हुआ था. तबीयत बिगड़ने की जानकारी मिलते ही उनकी पत्नी आईएएस नीना शर्मा भी वाराणसी पहुंची. शनिवार की सुबह 9.30 बजे उनका देहांत हो गया है.
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान श्रद्धांजलि दी है.

वाराणसी. शुक्रवार को मार्निंग वॉक के लिए गए एमएलसी चुनाव की मतगणना में तैनात ऑब्ज़र्वर सीनियर आईएएस अधिकारी अजय कुमार का रास्ते में  निधन हो गया है. मॉर्निंग वॉक दौरान आईएएस अजय कुमार अचानक से बेहोश होकर गिर पड़े थे जिसके बाद उन्हें वाराणसी के निजी हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया. उनकी गंभीर हालात को देखते हुए डॉक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर पर रखा हुआ था. तबीयत बिगड़ने की जानकारी मिलते ही उनकी पत्नी आईएएस नीना शर्मा भी वाराणसी पहुंची. शनिवार की सुबह 9.30 बजे उनका देहांत हो गया है.सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस दौरान उन्हें श्रद्धांजलि दी है. 

जानकारी मिली है कि गुरुवार को वाराणसी के पहड़िया मंडी में चल रही एमएलसी चुनाव की मतगणना में आईपीएस अजय कुमार देर रात तक मौजूद थे और बाद में वो सर्किट हाउस चले गए. शुक्रवार की सुबह करीब साढ़े सात बजे सर्किट हाउस में मॉर्निंग वॉक के लिए निकले और से अचानक गिर पड़े. सुरक्षाकर्मियों ने स्थानीय प्रशासन की सहायता से उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती कराया. डॉक्टरों की माने तो वे हार्ट अटैक के कारण वह अचैत होकर गिर गए थे. आईपीएस अजय कुमार के निधन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान श्रद्धांजलि दी है. साथ ही मुख्यमंत्री ने शोकाकुल परिवार के प्रति अपनी संवेदना को व्यक्त किया है.

एमएलसी चुनाव की मतगणना में तैनात ऑब्ज़र्वर सीनियर आईएएस अधिकारी अजय कुमार का निधन.(फाइल फोटो)

कैमिक्ल से गहने साफ करने के बहाने महिला को लूटा, लाखों के जेवर लेकर फरार

अजय सिंह की तबीयत बिगड़ने की खबर सुन आईएएस पत्नी नीना शर्मा को मिली तो वह कार से ही रवाना हो हुई थी लेकिन सड़क से वहां तक पहुंचने में देरी को देखते हुए प्रदेश सरकार ने हेलीकॉप्टर की मदद दी. कन्नौज से उन्हें हेलीकॉटर से वाराणसी भेजा गया. दोपहर करीब डेढ़ बजे वह बनारस पहुंच गईं. नीना शर्मा भी आगरा में ऑब्जर्वर के रूप में तैनात थीं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें