नई फसल आई, फिर भी प्याज पर महंगाई

Smart News Team, Last updated: Sat, 20th Feb 2021, 5:59 PM IST
  • बाजार में नई फसल आने के बाद भी आसमान छू रहे प्याज के दाम नीचे उतरने का नाम नहीं ले रहे हैं. मंडी आढ़ती जहां इसकी वजह मंडी में प्याज की कम आवक को बता रहे हैं तो जानकार लोग कालाबाजारी के उद्देश्य से प्याज का भंडारण किया जाना बता रहे हैं.
 नई फसल आई, फिर भी प्याज पर महंगाई (प्रतीकात्मक तस्वीर)

वाराणसी : काशी और आसपास के बाजारों में ज्यादातर प्याज की आवक महाराष्ट्र और गुजरात प्रांतों से होती है. महाराष्ट्र में भारी बारिश के कारण प्याज की पहली व दूसरी फसल खराब हो गई थी. इन प्रांतों में प्याज की तीसरी फसल मार्च के अंतिम सप्ताह और अप्रैल के पहले सप्ताह में तैयार होने की उम्मीद है. महाराष्ट्र और गुजरात में प्याज की फसलों के खराब हो जाने के कारण इन दिनों बाजार में 1 किलो प्याज 50 से 60 तक बेचा जा रहा है. अब जबकि स्थानीय किसानों की प्याज की फसल तैयार होकर बाजार में आनी शुरू हो गई है, बावजूद इसके प्याज के दामों में गिरावट नहीं आ रही है.

काशी व पूर्वांचल क्षेत्र के किसान अपनी प्याज की फसल को पंचकोशी, लमही, छोटा लालपुर, शिवपुर, चंदुआ, भोजूबीर, लंका और चितईपुर सब्जी मंडियों में लेकर पहुंच रहे हैं. मंडी आढ़ती भी इन किसानों से प्याज खरीद रहे हैं. फिर भी प्याज की कीमतों में कमी नहीं आ रही है. पहाड़िया मंडी के कारोबारी काशीनाथ और मुकेश जायसवाल बताते हैं कि इस समय प्याज की आवश्यकता बहुत कम है. गुजरात प्रांत से महीने में 5 से 6 गाड़ी ही प्याज की उतर रही है. मांग अधिक है, इस कारण प्याज के दाम चढ़े हुए हैं. जबकि बाजार के जानकारों की माने तो स्थानीय फसल आ जाने से प्याज के दाम में कमी होनी चाहिए थी. 

भोजपुरी व हरियाणवी गीतों को संस्कृत वर्जन का गायन कर सुर्खियों में है दिव्यांग

जानकार कालाबाजारी के लिए प्याज का अवैध भंडारण किए जाने की संभावना से इंकार भी नहीं कर रहे हैं. वही प्याज कारोबारियों का कहना है कि महाराष्ट्र में प्याज की तीसरी फसल अप्रैल माह के प्रथम सप्ताह तक तैयार होकर बाजार में आने लगेगी. इस बार फसल अच्छी होने की उम्मीद लगाई जा रही है. यदि ऐसा हुआ तो प्याज के दाम में अगले एक माह बाद ही कमी आने की संभावना है.

गन शॉट साइलेंसर बुलेट चालकों पर 21 लाख रुपए का जुर्माना

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें