एनडी तिवारी हत्याकांड: प्रॉपर्टी डीलर मर्डर में नया खुलासा, इनामी शूटर समेत छह नए नाम शामिल

Smart News Team, Last updated: Tue, 24th Aug 2021, 6:44 PM IST
  • रोहनिया के चर्चित प्रॉपर्टी डीलर एनडी तिवारी हत्याकांड में पूर्व में नामजद आरोपियों की बजाए शातिर नए बदमाशों के नाम सामने आए हैं. जिनमें तीन गिरफ्तार हो गए हैं, जबकि दो शूटर समेत 3 बदमाश फरार है. पुलिस के मुताबिक रंजिश और वर्चस्व के लिए प्रॉपर्टी डीलर एनडी तिवारी की हत्या कराई गई थी.
एनडी तिवारी हत्याकांड: प्रॉपर्टी डीलर मर्डर में नया खुलासा, इनामी शूटर समेत छह नए नाम शामिल

वाराणसी: वाराणसी के रोहनिया के चर्चित प्रॉपर्टी डीलर एनडी तिवारी हत्याकांड में पुलिस ने एक नया खुलासा किया है. पुलिस के मुताबिक इस हत्याकांड में पूर्व में नामजद आरोपियों की बजाए शातिर नए बदमाशों के नाम सामने आए हैं. एसपी ग्रामीण अमित वर्मा और एएसपी नीरज पांडे ने बताया की घटना में शातिर बदमाश दो लाख के इनामी मनीष सिंह सोनू समेत छह नए नाम सामने आए हैं. पुलिस के अनुसार इन सातों बदमाशों के हाथ एनडी तिवारी हत्याकांड में खून से रंगे हैं.

इसके अलावा एनडी तिवारी हत्याकांड में पुलिस ने एक और नया खुलासा किया है. एसपी ग्रामीण अमित वर्मा और एएसपी नीरज पांडे के मुताबिक पुरानी रंजिश, वर्चस्व और जातिगत विद्वेष के कारण एनडी तिवारी की हत्या कराई गई थी. मिली जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार आरोपियों में रोहनिया के अखरी निवासी देवेंद्र नारायण सिंह उर्फ मुन्ना, भुआलपुर निवासी आयुष उर्फ आशु शर्मा, मिर्जापुर के चुनार थाना क्षेत्र के कुसहां निवासी राजेंद्र सिंह उर्फ राजन हैं. जिनके पास से हत्या में इस्तेमाल 0.9 एमएम पिस्टल, तीन कारतूस, एक 12 बोर का रिपीटर, 12 बोर के 20 कारतूस, स्कार्पियो, तीन अदद मोबाइल फोन बरामद किये गये हैं.

रेलवे ट्रैक से 23 साल के इकलौते बेटे ने बाप को फोन लगाकर कहा- पापा, ट्रेन से कट रहा हूं

वहीं अन्य फरार आरोपियों में देवेंद्र नारायण सिंह का बेटा रमाशंकर उर्फ रिंकू, शूटर लंका थाना क्षेत्र के नरोत्तमपुर निवासी मनीष सिंह सोनू और जंसा थाना क्षेत्र के कुंडरिया निवासी हेमंत सिंह उर्फ गोविंदा उर्फ कुंडल हैं. पुलिस ने इन फरार आरोपियों को पकड़ने के लिए ऑपरेशन शुरू कर दी है. पुलिस के मुताबिक घटना में मुख्य साजिशकर्ता देवेंद्र नारायण सिंह, उसका बेटा रमाशंकर सिंह, कुसहां का राजेंद्र सिंह उर्फ राजन और आयुष हैं. पुलिस ने कहा कि देवेंद्र और राजन ने ही पुरानी रंजिश और जातिगत वर्चस्व के लिए प्रॉपर्टी डीलर एनडी तिवारी की हत्या की साजिश रची थी.

बता दें कि इन बदमाश शातिरों को पकड़ने के लिए पुलिस की टीम को 25000 इनाम देने की घोषणा की गई है. गिरफ्तारी करने वाली टीम में क्राइम ब्रांच प्रभारी ग्रामीण पुलिस अश्वनी कुमार चतुर्वेदी, रोहनिया इंस्पेक्टर हरिनाथ भारती, उप निरीक्षक रजनीश त्रिपाठी समेत कई पुलिसकर्मी इस टीम में शामिल थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें