नीलगिरी इंफ्रा लिमिटेड कंपनी घर का सपना दिखाकर लोगों से कर रही है ठगी, पुलिस जांच में जुटी

Smart News Team, Last updated: Wed, 1st Sep 2021, 11:46 AM IST
  • वाराणसी में घर का सपना दिखाकर जालसाज लोगों से धोखाधड़ी कर रहे है. नीलगिरी इंफ्रा लिमिटेड नाम की कंपनी लोगों को अपना शिकार बना रही. वाराणसी पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है.
नीलगिरी इंफ्रा लिमिटेड कंपनी घर का सपना दिखाकर लोगों से कर रही है ठगी, पुलिस जांच में जुटी

वाराणसी. आदमी मेहनत करके इसलिए कमाता है जिससे वो अपने सपनों का घर बना सकें. लेकिन वाराणसी में कुछ जालसाज आम आदमी के सपनों पर घात लगाए बैठे है. लोगों को घर का कागजी सपना दिखा कर मोटी रकम ऐंठ रहे है. मामला चेतगंज थानाक्षेत्र में नीलगिरी इंफ्रा लिमिटेड का है. जहां पर लोगों से मात्र 1100 रूपये में फ्लैट बुक करने का दावा किया जा रहा है. दावे तो सामने दिख रहे है लेकिन फ्लैट महज कागज पर ही है.

नीलगिरी इंफ्रा ऑफिस के खिलाफ वाराणसी सहित अन्य प्रदेशों से भी लगभग दो दर्जन शिकायतें आई. जिसके बाद वाराणसी कमिश्नरेट ने अब इन पर निगरानी शुरू कर दी है और जालसाजों पर अपना शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. नीलगिरी ग्रुप के तीन लोगों के खिलाफ धारा 409 और 420 के तहत मामला दर्ज हो चुका है. एमडी विकास सिंह उनकी पत्नी रितु सिंह और सहयोगी प्रदीप यादव को गिरफ्तार किया गया है.

उत्तर प्रदेश के इन पांच शहरों में खोले जाएंगे आश्रम पद्धति स्कूल, इतने करोड़ की होगी लागत

मालूम हो काशी विश्वनाथ की नगरी वाराणसी में हर कोई रहना चाहता है जिसकी वजह से यहां की जमीन की कीमतें आसमान छुती है. जिसका फायदा उठाकर बिल्डर यूपी सहित अन्य प्रदेशों में भी लोगों को अपनी ठगी का शिकार बनाते है. एसएचओ चेतगंज परमहंस ने बताया है कि मामले अलग-अलग राज्य के भी हैं, कई शिकायतों में तो ऐसी मिली है जिसमें इन्होंने दूसरे की जमीन को अपनी बताकर बेच दी है.

ठगों से रहे सावधान:

जिस नाम की कंपनी ठग चलाते थे वो रेरा में रजिस्टर नहीं है लेकिन लुभावने ऑफ़र देकर लोगों को अपने जाल में फंसा लेते थे. फिलहाल इस मामले में वाराणसी कमिश्नर ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है और पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. माना जा रहा है कि अभी कई और लोगों के नाम सामने आने है. पुलिस अब ऐसे लोगों पर कार्रवाई कर रही है लेकिन ऐसे शातिरों से आपको भी सावधान रहने की जरूरत है. सपनों के घर के चक्कर में इनकी ठगी का शिकार न हों. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें