BHU की प्रॉक्टर के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, लूट और छेड़खानी के हैं आरोप

Smart News Team, Last updated: Sat, 20th Mar 2021, 2:09 PM IST
  • बीएचयू की प्रॉक्टर रोयाना सिंह के खिलाफ अदालत ने लूट, छेड़खानी और अन्य आरोपों को लेकर गैर जमानती वॉरंट जारी कर दिया गया है. अदालत ने सुनवाई के लिए तारीख 30 अप्रैल तय की है.
BHU की प्रॉक्टर के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, लूट और छेड़खानी के हैं आरोप (प्रतीकात्मक तस्वीर)

वाराणसी: बीएचयू की प्रॉक्टर रोयाना सिंह के खिलाफ लूट, छेड़खानी और अन्य आरोपों को लेकर न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम दिवाकर कुमार की अदालत की तरफ से गैर जमानती वॉरंट जारी कर दिया गया है. इसके साथ ही अदालत ने सुनवाई के लिए तारीख भी जारी कर दी है, जो कि 30 अप्रैल तय की गई है. बताया जा रहा है कि लूट, छेड़खानी व अन्य आरोपों को लेकर अधिवक्ता अंशुमान त्रिपाठी के जरिए आशीष सिंह ने रोयाना सिंह के खिलाफ अदालत में परिवाद दाखिल किया था.

वहीं, मामले पर परिवादी का बयान दर्ज किये जाने के बाद अदालत ने प्रोक्टर रोयाना सिंह को तलब किया और दो मार्च 2019 को उन्हें समन भी जारी किया था. हालांकि, स्थनग आदेश पारित होने के बाद मामले की कार्रवाई पर रोक लगा दी गई थई. वहीं, स्थनग की समयावधि में बढ़ोतरी नहीं की गई, साथ ही रोयाना सिंह भी अदालत में मौजूद नहीं हुईं. जिसके बाद परिवादी ने अधिवक्ता अंशुमन त्रिपाठी अदालत से वॉरंट जारी करने की अपील की.

GST फर्जीवाड़े को लेकर 4777 फर्मों का रजिस्ट्रेशन निरस्त

दूसरी ओर अधिवक्ता ने दलील के समर्थन में स्थगन आदेश को लेकर सर्वोच्च न्यायालय की नजीर को भी अदालत में प्रस्तुत किया. अदालत ने दोनों पक्षों की बहस सुनने और पत्रावलियों के अवलोकन के बाद प्रो. रोयाना सिंह के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया. वारंट जारी करने के बाद सुनवाई के लिए 18 मार्च की तिथि तय की गई थी, लेकिन प्रो. रोयाना सिंह के न्यायालय में उपस्थित न होने पर न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम ने गैर जमानती वारंट जारी कर दिया और उन्हें 30 अप्रैल को तलब किया है.

रसूक के बल पर थानों में जलती थी बिजली, अब विभाग ने किया कार्रवाई का फैसला

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें