वाराणसी में 14 अस्पतालों को नोटिस, मरीजों से ज्यादा पैसा वसूलने का आरोप

Smart News Team, Last updated: Mon, 17th May 2021, 3:54 PM IST
  • जिला प्रशासन ने 14 निजी अस्पतालों को नोटिस भेजकर 48 घंटे में जवाब मांगा है. नोटिस का जवाब न देने पर अस्पतालों के खिलाफ महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई करने की बात कही गई है.
14 अस्पतालों को नोटिस

वाराणसी: कोरोना संक्रमित मरीजों से इलाज के नाम पर हो रही वसूली को लेकर जिला प्रशासन ने अस्पतालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है. जिला प्रशासन ने 14 निजी अस्पतालों को नोटिस भेजकर 48 घंटे में जवाब मांगा है. नोटिस का जवाब न देने पर अस्पतालों के खिलाफ महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई करने की बात कही गई है.

डीएम की ओर से भेजे गए इस नोटिस में चेतावनी दी गई है कि अगर दो दिन के अंदर नोटिस का जवाब नहीं दिया गया तो अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी. इतना ही नहीं जरूरत पड़ने पर उनकी कोविड अस्पताल की मान्यता को भी रद्द किया जा सकता है.

कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगाने को लेकर हंगामा, पुलिस ने कराया मामला शांत

सीएमओ डॉ वी बी सिंह के मुताबिक इन सभी अस्पतालों में नर्सिंग केयर, विशेषज्ञों और सुविधाओं के नाम पर कोविड पेशेंट से ज्यादा पैसा वसूला जा रहा था. नियमों के अनुरूप न होने पर इन अस्पतालों के खिलाफ नोटिस जारी किया गया है. जिन अस्पतालों को नोटिस भेजा गया है उनमें एपेक्स, पॉपुलर और ओमेगा जैसे बड़े अस्पताल शामिल हैं.

स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी परिवार समेत कोरोना संक्रमित, लगवाई थी कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज

सीएमओ ने कहा कि इनके अलावा शहर के अन्य अस्पतालों पर भी फीस को लेकर नज़र रखी जा रही है. इस वक्त स्वास्थ्य विभाग शहर के करीब 36 अस्पतालों पर कड़ी निगरानी रखे हुए है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें