वाराणसी: सेंट्रल जेल में लगेगी नर्सरी, कैदी करेंगे बीजों का उत्पादन

Smart News Team, Last updated: Fri, 15th Jan 2021, 2:57 PM IST
वाराणसी की सेंट्रल जेल में जल्द ही नर्सरी लगाई जाएगी जिसमें कैदी बीजों का उत्पादन करेंगे. इसके लिए बीएचयू के कृषि विज्ञान संस्थान के अधिकारियों से बात हो गई है. हालांकि करार होना अभी बाकी है.
वाराणसी की सेंट्रल जेल में बंद कैदी अब बीजों का उत्पादन करेंगे.

वाराणसी. सेंट्रल जेल में बंद कैदी अब बीज उत्पादन में सहयोग करेंगे. इसके लिए जेल प्रशासन ने बीएचयू के कृषि विज्ञान संस्थान के अधिकारियों से बात की है. संस्थान के नए वैरायटी के बीजों की नर्सरी जेल में लगाई जाएगी. जल्द ही इस योजना को पूरा किया जाएगा.

जानकारी के अनुसार केंद्रीय कारागार में बंद कैदी की बेहतरी और उन्हें कार्यकुशल बनाने के लिए पहले वहां पशुपालन, बेकरी सहित अन्य उत्पादन शुरू किया गया था. इससे केंद्रीय कारागार का खर्चा बच रहा था और साथ ही लंबी सजा काट रहे कैदी तनाव मुक्त हो रहे थे. इसके बाद अब प्रशासन नई वैरायटी के बीज उत्पादन का काम भी शुरू करने जा रहा है.

अयोध्या राम मंदिर निर्माण धनसंग्रह अभियान शुरू, पहला कूपन वाराणसी मेयर से कटवाया

आपको बता दें कि बीएचयू में हर सीजन में धान, गेहूं, अरहर सहित अन्य प्रमुख बीजों की नर्सरी तैयार की जाती है. यह नर्सरी केंद्रीय कारागार में भी तैयार हो और जेल में बंद कैदी खेती की नई तकनीक सीख सकें, इसके लिए बीज उत्पादन का कार्य शुरू किया जा रहा है. जेल अधीक्षक एके सिंह ने बताया कि बीएचयू के एग्रीकल्चर विभाग से बात हुई है. अभी करार होना है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें