हाथरस कांड : प्रदेश शासन का पुतला फूंकने का प्रयास कर रहे छात्रों को पुलिस ने हटाया

Smart News Team, Last updated: 30/09/2020 04:02 PM IST
  • काशी विद्यापीठ के छात्रों की ओर से पुतला दहन के दौरान चंदुवा सट्टी के पास छात्र प्रदर्शन कर रहे थे जब अचानक से पुलिस उन पर हमला कर दिया. 
छात्रों को हटाती पुलिस

वाराणसी. महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के समाजवादी छात्रसभा के छात्र प्रसाशन के खिलाफ पुतला फूंकने पहुंचे. इस दौरान उनकी पुलिस के साथ तीखी नोकझोंक हुई और पुलिस ने उनसे पुतला भी छीन लिया. यह सभी छात्र हाथरस कांड पर नराजगी जाहिर करने के लिए एकत्र हुए थे.

छात्रों ने घंटी मिल के पास प्रदेश शासन का पुतला फूंकने का प्रयास किया. हालांकि वह अपने काम में सफल नहीं हो पाए और पुलिस ने उनसे पुतला छीन लिया. इस दौरान पुलिस की छात्रनेता के साथ हल्की नोकझोंक भी हुई.

हाथरस गैंगरेप: वाराणसी में सपा और AIPWA का कैंडल मार्च, फूंके पुतले

काशी विद्यापीठ के छात्रों की ओर से पुतला दहन के दौरान चंदुवा सट्टी के पास छात्र प्रदर्शन कर रहे थे जब अचानक से पुलिस उन पर हमला करने लगी. छात्रों का प्लान हाथरस कांड के विरोध में घंटी मिल के पास प्रदेश शासन का पुतला फूंकने का था. हालांकि वह अपने मकसद में सफल नहीं हो पाए और पुलिस ने पहले ही उनसे पुतला छीन लिया. 

 

छात्रों को जबरन हटाती पुलिस

हाथरस की घटना के बाद से पूरे देश में रोष का माहौल है. नेताओं से लेकर बॉलीवुड तक सभी इस पर अपना गुस्सा प्रकट कर रहे हैं और उत्तर प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल कर रहे हैं.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर प्रशासन पर आरोप लगाया कि उन्होनें पीड़िता के परिवार की बिना सहमति के शव का अंतिम संस्कार कर दिया है. 

हाथरस गैंगरेप: प्रियंका, मायावती के बाद अखिलेश ने योगी सरकार पर साधा निशाना

वहीं प्रियंका गांधी के बाद बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट कर कहा, "यूपी पुलिस द्वारा हाथरस की गैंगरेप दलित पीड़िता के शव को उसके परिवार को न सौंपकर उनकी मर्जी के बिना व उनकी गैर-मौजूदगी में ही कल आधी रात को अन्तिम संस्कार कर देना लोगों में काफी संदेह व आक्रोश पैदा करता है। बीएसपी पुलिस के ऐसे गलत रवैये की कड़े शब्दों में निन्दा करती है".

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें