वाराणसी: स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस ट्रेन के सामने कूदकर सिपाही ने दी जान

Smart News Team, Last updated: 30/04/2021 04:29 PM IST
वाराणसी के चंद्रा चौराहे के रेलवे क्रॉसिंग के सामने तेज रफ्तार से आ रही स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस के सामने 56 साल के सीताराम यादव ने कूदकर आत्महत्या कर ली. सीताराम यादव चंद्रा चौराहे के पास आशापुर के निवासी थे. पुलिस ने सीताराम यादव के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.
ट्रेन के सामने कूदकर सिपाही ने किया आत्महत्या. (प्रतीकात्मक फोटो)

वाराणसी : वाराणसी के चंद्रा चौराहा रेलवे क्रॉसिंग पर सिपाही सीताराम यादव ने ट्रेन स्वतंत्रता सेनानी के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली. मृतक सीताराम यादव के शव को पुराना पुल चौकी के पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. इस घटना के बाद ट्रेन स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस के ड्राइवर ने ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या करने का मेमू सारनाथ रेलवे स्टेशन मास्टर को दे दिया. आत्महत्या के कारण पर पुराना पुल चौकी के प्रभारी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही इस घटना का मामला साफ हो पाएगा.

सीताराम यादव उम्र 56 वर्ष चंद्रा चौराहा आशापुर के पास रहते थे. उनका मूल निवास ग्राम महुआर थाना बलुआ और जिला चंदौली में था. जानकारी के अनुसार सीताराम यादव चेतगंज के पास फायर स्टेशन पर तैनात थे. पुराना पुल चौकी प्रभारी मिथिलेश कुमार ने बताया कि सीताराम यादव पिछले 1 साल से गंभीर बीमारी से पीड़ित थे. इस वजह से बीमार सीताराम यादव ड्यूटी पर भी नहीं जाया करते थे. सीताराम यादव के 3 पुत्र हैं. जो अपनी अपनी जगह पर काम धंधे में लगे हुए हैं. चौकी प्रभारी मिथिलेश कुमार के अनुसार सीताराम यादव सुबह टहलने के लिए निकले हुए थे टहलने के बाद वह वापस अपने घर आने के लिए चंद्रा चौराहे रेलवे क्रॉसिंग के पास तेज रफ्तार में आ रही स्वतंत्रता सेनानी के चपेट में आ गए.

वाराणसी में काशी कवच सुविधा लॉन्च, घर बैठे होगा मरीजों का इलाज

जिससे सीताराम यादव की मौत हो गई. घटना की खबर पाते ही पुलिस प्रशासन पहुंची और शव को पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया. वाराणसी सिटी से औड़िहार की ओर जाने वाली स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस के ड्राइवर ने सारनाथ स्टेशन मास्टर को ट्रेन के आगे कूदने का मेमू दे दिया. मृतक सीताराम का परिवार और परिचित इस घटना से काफी शौक में है.

CM योगी की नई रणनीति! लोगों को सहायता देने के लिए टीम-9 को दी पूरी जिम्मेदारी

मायावती ने UP सरकार से की मांग, चुनाव ड्यूटी कर कोरोना से मरे कर्मचारियों को मिले आर्थिक मदद

यूपी पुलिस भर्ती SI और ASI की आवेदन तारीखों में बदलाव, जानें नई डेट्स

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें