वाराणसी में राष्ट्रपति के आगमन को लेकर हुई तैयारी, चप्पे-चप्पे पर बढ़ाई चौकसी

Smart News Team, Last updated: Sat, 13th Mar 2021, 1:31 PM IST
  • वाराणसी में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के दौरे को लेकर सतर्कता बढ़ा दी गई है. थल सेना, वायु सेना और जल सेना के साथ ही एनडीआरएफ की टीम और पैरामिलिट्री फोर्स भी वाराणसी में तैनात की जाएगी.
वाराणसी में राष्ट्रपति के आगमन को लेकर हुई तैयारी, चप्पे-चप्पे पर बढ़ाई चौकसी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

वाराणसी में देश के प्रथम नागरिक यानी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 13 मार्च को तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचेंगे. वह वाराणसी के साथ-साथ मिर्जापुर और सोनभद्र का भी दौरा करेंगे. बताया जा रहा है कि वह 13 मार्च की शाम को मां गंगा की विशेष महाआरती में भी शामिल होंगे और 14 मार्च को मिर्जापुर व सोनभद्र की यात्रा पर निकल जाएंगे. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के आगमन को लेकर वाराणसी में चौकसी भी बढ़ा दी गई है, साथ ही चप्पे चप्पे पर निगरानी भी रखी जा रही है.

बताया जा रहा है कि वाराणसी में बरेका से लेकर श्री काशी विश्वनाथ मंदिर और दशाश्वमेध घाट तक चप्पे-चप्पे पर पुलिस, पीएसी और पैरामिलिट्री फोर्स के साथ ही स्थानीय व केंद्रीय खुफिया एजेंसियों के अधिकारी तैनात किये जाएंगे. वहीं, गंगा आरती के साथ ही गंगा में जल पुलिस, पीएसी, बाढ़ राहत दल और एनडीआरएफ के जवानों के साथ ही नौसेना के जवान भी तैनात किये जाएंगे. सुरक्षा व्यवस्थआ के मद्देजर नई दिल्ली से थल सेना, वायु सेना और नौसेना के अधिकारी व उनकी टीम भी वाराणसी आएगी.

नदेसर तालाब के किनारे बनेगा स्ट्रीट बाजार, पार्किंग की भी होगी सुविधाएं

बताया जा रहा है कि राष्ट्रपति की बाह्य सुरक्षा की कमान 22 आईपीएस अधिकारियों द्वारा संभाली जाएगी. इसके साथ ही सुरक्षा के लिए 25 एडिशनल एसपी, 45 डिप्टी एसपी, 955 दरोगा-इंस्पेक्टर, 2350 कंस्टेबल-हेड कांस्टेबल, आठ कंपनी पीएसी और 10 कंपनी पैरामिलिट्री फोर्स के जवान भी वाराणसी में तैनात रहेंगे. इस बारे में बात करते हुए एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि सुरक्षा को लेकर सभी की मुस्तैदी के साथ ही ड्यूटी के भी निर्देश दिये जा चुके हैं.

वाराणसी में जनता को मिलेगी गड्ढों से मुक्ति, मरम्मत के लिए 9 करोड़ का बजट पास

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें