PUVVNL हड़तालः बिजली ठप होने से वाराणसी उपकेन्द्र पर धरने पर ग्रामीण, जमकर नारेबाजी

Smart News Team, Last updated: 05/10/2020 10:12 PM IST
  • वाराणसी के पिंडरा में बिजली आपूर्ति ठप रहने पर देर रात ग्रामीणों ने विद्युत उपकेन्द्र पर जाकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और फिर वहीं धरने पर बैठ गए. बिजली ठप होने की वजह से वाराणसी के दर्जनों गांवों अंधेरे में हैं.
बिजली ठप रहने से वाराणसी के पिंडरा उपकेन्द्र पर ग्रामीण धरने पर बैठे.

वाराणसी. वाराणसी के पिंडरा इलाके के गांवों में देर रात बिजली न आने पर ग्रामीण बिजली उपकेन्द्र पर धरने पर बैठे. पूर्वांचल विद्युत निगम लिमिटेड के निजीकरण के विरोध में सोमवार से बिजलकर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठ गए हैं. जिसके बाद वाराणसी के दर्जनों गांवों में बिजली आपूर्ति ठप पड़ी हुई है. जिसके बाद रात को ग्रामीणों ने विद्युत उपकेन्द्र पर पहुंचकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

पिंडरा के गजोखर में स्थित 33 केबी विद्युत केन्द्र पर सुबह से बिजली आपूर्ति ठप पड़ी हुई है. जिसके बाद देर रात को विद्युत केन्द्र पर लोगों को गुस्सा फूटा. ग्रामीण उपभोक्ता कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष राजीव कुमार के नेतृत्व में पहंचे और वहां सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. जिसके बाद लोगों को ग्रामीण विद्युत उपकेन्द्र गेट के बाहर धरने पर बैठ गए.  इस मौके पर राजीव कुमार, रविंद्र कुमार, प्रदीप कुमार, विशाल, राम कमल मिश्रा, विवेक मिश्रा, योगेश मिश्रा, पंकज चौहान, कौशल मिश्रा, बलराम राजभर, दिनेश सिंह, गोपाल राम और लक्ष्मीकांत समेत अनेक लोग मौजूद रहे।

PUVVNL हड़तालः वाराणसी के सेवापुरी उपकेन्द्र की बिजली सप्लाई रही ठप, दर्जनों गांव अंधेरे में

ग्रामीणों ने कहा कि जब तक आपूर्ति बहाल नहीं होती तब तक वे धरने पर बैठे रहेंगे. ग्रामीणों ने सरकार पर उपेक्षा करने का आरोप लगाया. इसके अलावा पिंडरा उपकेन्द्र पर भी लोगों ने पहुंचकर आक्रोश जताया. ग्रामीणों ने आक्रोश दिखाते हुए कहा कि सभी फीडर चालू किए जाएं या सभी को बंद कर दिया जाए. पिंडरा में एक घंटे तक ग्रामीणों और व्यापारियों ने हंगामा काटा.

वाराणसी: इतिहास में पहली बार रामनगर पालिका बजट को यूपी सरकार ने दी मंजूरी

आपको बता दें कि पूर्वांचल विद्युत निगम लिमिटेड के निजीकरण के विरोध में बिजली कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं. जिसके बाद से वाराणसी के कई इलाकों में बिजली सप्लाई ठप रही. जिससे ग्रामीणाों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें