रेलवे के निजीकरण के विरोध में वाराणसी में सड़कों पर उतरे रेलवे मजदूर

Smart News Team, Last updated: 09/08/2020 10:23 PM IST
  • वाराणसी में उत्तरी रेलवे मजदूर यूनियन के बैनर तले रेल कर्मचारियों ने कैंट रेलवे स्टेशन के सामने किया विरोध प्रदर्शन रेलवे के निगमीकरण और निजीकरण पर जनरल एवं मैकेनिकल शाखा द्वारा नेशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन रेलवे मैन के महासचिव के नेतृत्व में हुआ प्रदर्शन
उतरे रेलवे

वाराणसी। रेलवे के निगमीकरण और निजी करण को लेकर रविवार को कैंट स्टेशन के सामने उत्तरी रेलवे मजदूर यूनियन के बैनर तले रेल कर्मचारियों ने विरोध प्रदर्शन किया.

कर्मचारियों ने इसे सख्त समर्थन दिवस के रूप में मनाया. नेशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन रेलवे मैन के महासचिव डॉ एम राघवैया के आह्वान पर उत्तरी रेलवे मजदूर यूनियन वाराणसी की जनरल एवं मैकेनिकल शाखा द्वारा फिजिकल डिस्टेंसिंग के साथ विरोध प्रदर्शन किया गया.

इस दौरान प्रदर्शन करने वाले सभी कर्मचारी कोरोना महामारी के चलते मास्क लगाए हुए नजर आए. वाराणसी कैंट रेलवे स्टेशन के सामने प्रदर्शन करते हुए कर्मचारियों ने इसे समर्थन दिवस के रुप में मनाया. वहीं सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन किया गया.

प्रदर्शन कर रहे अनूप जायसवाल ने कहा कि रेलवे के निजीकरण किए जाने से लाखों कर्मचारी बेरोजगार हो जाएंगे. उनके सामने रोजी रोटी का संकट उत्पन्न हो जाएगा. यह सरकार की मजदूर विरोधी योजना है

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें