शादी का झांसा देकर रेप करने वाला आरोपी दरोगा बर्खास्त

Shubham Bajpai, Last updated: Thu, 25th Nov 2021, 12:55 PM IST
  • वाराणसी में शादी का झांसा देकर युवती से रेप करने के आरोपी पुलिस दरोगा अमित कुमार को बर्खास्त कर दिया गया है. अमित पर विभागीय जांच के बाद ये कार्रवाई की गई है. अमित पर खुद उनकी पत्नी और हेड कांस्टेबल ने भी शिकायत दर्ज कराई थी. इससे पहले अमित का जांच के आधार पर डिमोशन किया गया था.
वाराणसी रेप का आरोपी दरोगा बर्खास्त, पत्नी ने भी दर्ज कराई थी शिकायत

वाराणसी. क्राइम ब्रांच में तैनात रहे अमित कुमार को विभागीय जांच के चलते कार्रवाई करते हुए बर्खास्त कर दिया गया. वर्तमान में जौनपुर में तैनात अमित पर मथुरा की एक युवती ने शादी का झांसा देकर रेप करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया था. अमित पर उसकी पत्नी और हेड कांस्टेबल के पद पर तैनात मीनाक्षी ने इंस्पेक्टर पर जालसाजी का भी मामला दर्ज किया था.

डिमोशन कर बना दिए गए थे सब इस्पेक्टर

अमित कुमार की पत्नी मीनाक्षी की शिकायत में कहा गया कि अमित ने जालसाजी करके सब इंस्पेक्टर से इंस्पेक्टर पर प्रमोशन लिया था और उसने अपने ऊपर दर्ज आपराधिक मामले छुपाए थे. जिसकी विभागीय जांच करवाई गई जिसमें आरोप सही पाए जाने पर अमित का डिमोशन करके उसे सब इंस्पेक्टर बना दिया गया था.

वाराणसी, चंदौली, भदोही में शुरू होगी योग पाठशाला, योग शिक्षक देंगे सेहतमंद रहने

मथुरा की युवती ने की थी एसएसपी से शिकायत

अमित कुमार पर 2020 में मथुरा के कोसीकला थाने की एक युवती ने 8 जनवरी 2020 को वाराणसी के महिला थाने में शादी का झांसा देकर रेप करने समेत कई आरोपों में मामला दर्ज कराया था. पीड़िता ने इसकी शिकायत तत्कालीन एसएसपी अमित पाठक से की थी कि अमित लगातार समझौता करने का दबाव बनाने और बात न मानने पर हत्या की धमकी दे रहा है. जिसके बाद इस मामले की विभागीय जांच कराने के आदेश दिए गए. विभागीय जांच रिपोर्ट के आधार पर वाराणासी कमिश्नरेट के अपर पुलिस आयुक्त मुख्यालय व अपराध सुभाष चंद्र दुबे ने अमित को बर्खास्त कर दिया है.

वाराणसी में 100 साल पुरानी दुकान का मशहूर बनारसी पान खाने पहुंचे अहान शेट्टी और तारा सुतारिया

बता दें कि मामला सामने आने के बाद अमित ने एसएसपी कैंप कार्यालय में खुद पर पेट्रोल डाल आत्मदाह करने की धमकी दी थी. जिसके बाद उस वक्त आईजी रेंज के आदेश पर अमित का तबादला जौनपुर में कर दिया गया था और तब से मामले की जांच चल रही थी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें