कोरोना का असर: इस बार वाराणसी में नहीं लगेगा रथयात्रा मेला, लोगों में मायूसी

Smart News Team, Last updated: Mon, 12th Jul 2021, 9:27 PM IST
  • भैरवतालाब और राजातालाब में लगने वाले 2 दिवसीय ऐतिहासिक पर्व रथयात्रा में इस बार मेले का आयोजन नहीं होगा. कोरोना संक्रमण के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है. इस फैसले के बाद दुकानदार और ग्रामीणों में काफी मायूसी है.
भैरवतालाब और राजातालाब में लगने वाले 2 दिवसीय रथयात्रा में इस बार मेले का आयोजन नहीं होगा.

वाराणसी. भैरवतालाब और राजातालाब में लगने वाले 2 दिवसीय ऐतिहासिक पर्व रथयात्रा में इस बार मेले का आयोजन नहीं होगा. कोरोना संक्रमण के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है. इस फैसले के बाद दुकानदार और ग्रामीणों में काफी मायूसी है. इस दो दिवसीय भैरवतालाब रथयात्रा मेला के प्रथम दिन राजातालाब के रानी बाजार स्थित किले से काशी नरेश कुंवर अनंत नारायण सिंह द्वारा भगवान जगन्नाथ, बलभद्र, सुभद्रा जी का दर्शन पूजन करने के पश्चात भगवान जगन्नाथ के रथ को खींच कर रथयात्रा मेले का शुभारंभ करते है.

भैरोतालाब मेला स्थल पर पहुंचकर कुंवर अनंत नारायण सिंह द्वारा वहा उपस्थित पुरोहित ब्रह्मणों को दक्षिणा देकर विदा करने की परंपरा रही है. साथ ही इस दौरान ग्रामीण विभिन्न प्रकार के प्रतिष्ठानों तथा सर्कस व झूले का लुफ्त उठाते हैं. इस मेले में आसपास के इलाकों से काफी लोग लुफ्त उठाने आते हैं.

पेट्रोल कीमत के विरोध में कांग्रेस ने किया PM मोदी के संसदीय कार्यालय का घेराव

लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण के मद्देनजर मेले का आयोजन नहीं होगा. इस फैसले के बाद लोगों में काफी मायूसी देखी जा रही है. इस बाबत पूछे जाने पर रोहनिया थाना प्रभारी प्रवीण कुमार ने कहा कि कोविड-19 के चलते इस बार मेले का आयोजन नहीं होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें