स्मार्ट मीटर और अधिक बिजली बिल के खिलाफ संतों ने काशी में शुरू किया आमरण अनशन

Smart News Team, Last updated: 09/12/2020 08:51 PM IST
  • स्मार्ट मीटर की दुष्वारीयों, अधिक बिजली बिल आने और लोगों को अनावश्यक परेशान करने के खिलाफ संत समाज ने मोर्चा खोल दिया है. बिना किसी सूचना के लाइन काट दी जा रही है. इसके कारण मंदिर मठ अंधेरे में हो जा रहे हैं. संतों ने चेताया कि अगर उत्पीड़न बंद नहीं हुआ तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा.
स्मार्ट मीटर और अधिक बिजली बिल के खिलाफ, संतों ने काशी में शुरू किया आमरण अनशन

वाराणसी: हाल ही मे 12 अगस्त को जन्माष्टमी के दिन प्रदेश के डेढ़ लाख से अधिक बिजली उपभोक्ताओं के स्मार्ट मीटर अचानक बंद हो गए थे. इनमें हज़ारों ऐसा उपभोक्ता थे, जिनका बिजली बिल भी जमा था. शुरुआती जांच में सामने आया कि गलत कमांड की वजह से उनके मीटर भी बंद हो गए थे, जिनका बिल जमा था. इसे एक तकनीकी खामी बताया गया था.स्मार्ट मीटर की दुष्वारीयों, अधिक बिजली बिल आने और लोगों को अनावश्यक परेशान करने के खिलाफ संत समाज ने मोर्चा खोल दिया है. काशी में बुधवार को काशी के संत पातालपुरी मठ में धरने पर बैठ गए. संतों ने आरोप लगाया कि बिजली विभाग आए दिन अनाप-शनाप बिल भेजकर परेशान कर रहा है. बिना किसी सूचना के लाइन काट दी जा रही है. इसके कारण मंदिर मठ अंधेरे में हो जा रहे हैं. संतों ने चेताया कि अगर उत्पीड़न बंद नहीं हुआ तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा.

विद्युत बिल को लेकर नरहरपुरा स्थित पातालपुरी मठ में श्री वैष्णो समाज के तत्वावधान में आमरण अनशन शुरू किया गया है. महंत बालक दास महाराज इन गड़बड़ियों के खिलाफ अनिश्चितकालीन आमरण अनशन पर बैठे हैं. उनके समर्थन में श्री बिहारी मंदिर बड़ा मंदिर के महंत भी उतर आए हैं. संत समाज के महामंत्री सर्वेश्वर शरण जी महाराज ने कहा कि कई बार देखा गया है कि बिजली विभाग अधिक बिल भेज रहा है.

बेसिक शिक्षा में भ्रष्टाचार कर रहे बाबुओं और अधिकारियों को निशाना बनाएगी यूटा

बालक दास महाराज का कहना है कि बिजली बिल में गड़बड़ियों को दूर कराने के लिए कई बार विभाग से शिकायत की गई बावजूद इसके विभाग के इंजीनियर कान में तेल डाल कर सो रहे हैं. उनको संत समाज की तनिक भी परवाह नहीं है. इस मौके पर महंत ईश्वर दास, महंत राजाराम दास, महंत रामनारायण दास, महंत नरोत्तम दास, पुजारी सत्यनारायण दास, पुजारी रामेश्वर दास, लक्ष्मण दास, विजय राम दास आदि मौजूद रहे.

वाराणसी: संदिग्ध परिस्थिति में मिली युवक की लाश, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें