वाराणसी: फांसी के फंदे से लटका मिला स्कूल कर्मचारी, ट्रांसफर होने से था परेशान

Smart News Team, Last updated: 03/10/2020 06:34 PM IST
  • वाराणसी के चौबेपुर में स्कूल कर्मचारी का ट्रांसफर होने से स्कूल कर्मचारी ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच कर रही है.
ट्रांसफर होने की वजह से वाराणसी के दनियालपुर में स्कूल कर्मचारी ने फांसी लगाकर जान दे दी.

वाराणसी. वाराणसी के चौबेपुर में उस समय हंगामा मच गया जब स्कूल कर्मचारी ने घर में पंखे से लटककर फांसी लगा ली. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. मृतक के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. बताया जा रहा है कि ट्रांसफर होने की वजह से स्कूल कर्मचारी ने सुसाइड कर ली.

ये मामला वाराणसी के दनियालपुर गांव का है. यहां के एसओस हरमन माइनर स्कूल के 45 वर्षीय कर्मचारी नितिन शिवलिंग ने शनिवार को पंखे में लाल रंगे के गमछे से फंदा बनाकर फांसी लगा ली. जब नितिन ने फांसी लगाई उस समय घर में कोई नहीं था. पत्नी अपने छोटे बेटे को लेकर मायके गई हुई थी और बड़ा बेटा बाहर गया हुआ था.

स्मृति ईरानी का कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रोका काफिला, गो बैक के लगाए नारे

बताया जा रहा है कि नितिन शिवलिंग का कुछ महीने पहले भुज में ट्रांसफर कर दिया गया था. वहां वो जाना नहीं चाहता था. इसको लेकर उसने कई बार अधिकारियों से गुहार भी लगाई. मिली जानकारी के अनुसार, उसने अपने ट्रांसफर रोकने के लिए अधिकारियों को सुसाइड करने की धमकी भी दी थी. 

स्मृति ईरानी का राहुल पर निशाना, कहा हाथरस दौरा सियासी

शनिवार को नितिन घर पर अकेला था. लगभग 11 बजे जब उसका 17 वर्षीय बेटा आयुष घर पहुंचा तो उसने पापा को पंखे से लटका देखा तो सन्न रह गया. आयुष ने पुलिस को इसकी सूचना दी. सूचना मिलते ही क्षेत्राधिकारी पिंडरा अभिषेक पांडेय, थानाध्यक्ष संजय त्रिपाठी फॉरेंसिक टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. क्षेत्राधिकारी पिंडरा अभिषेक पांडेय ने कहा कि मौके से कुछ कागजात मिले हैं, उनकी जांच की जा रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें