CBCID से दुर्व्यवहार के आरोप में सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय के सीनियर असिस्टेंट सस्पेंड

ABHINAV AZAD, Last updated: Tue, 5th Oct 2021, 5:24 PM IST
  • सीबीसीआईडी टीम के सामने अशोभनीय आचरण के आरोप में सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय में सीनियर असिस्टेंट सुशील यादव को कुलपति ने सस्पेंड कर दिया है.
(फोटो क्रेडिट- सोशल मीडिया)

वाराणसी. सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय में सीनियर असिस्टेंट सुशील यादव को कुलपति ने निलंबित कर दिया है. निलंबित सीनियर असिस्टेंट सुशील यादव पर सीबीसीआईडी टीम के सामने अशोभनीय आचरण का आरोप है. दरअसल, सामान्य प्रशासन विभाग के वरिष्ठ सहायक सुशील यादव ने सोमवार को आई सीबीसीआईडी टीम से गलत व्यवहार किया. जिसके बाद पुलिस अधीक्षक स्नेहा तिवारी ने इस पर काफी नाराजगी जाहिर की थी. इस मामले पर संज्ञान लेते हुए कुलपति प्रो. हरेराम त्रिपाठी ने वरिष्ठ सहायक को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया.

इस बीच संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय और उससे संबद्ध महाविद्यालय में एक ही सत्र में एक ही विद्यार्थी द्वारा शास्त्री की परीक्षा देने का मामला प्रकाश में आया है. सरकार ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं. सरकार के आदेश के बाद जांच अपराध शाखा, अपराध अनुसंधान विभाग इस मामले की जांच कर रही है. बहरहाल, जांच टीम वाराणसी शाखा की पुलिस अधीक्षक स्नेहा तिवारी के नेतृत्व में तफ्तीश में जुटी हैं. इस दौरान तकरीबन बीस कर्मचारियों का बयान लिया गया.

12 अक्टूबर से वाराणसी एयरपोर्ट से UAE के लिए उड़ान भरेंगे विमान, ये है टाइम टेबल

मिली जानकारी के मुताबिक, विपिन कुमार शर्मा का नामक एक अभ्यर्थी का माध्यमिक शिक्षा विभाग में एलटी ग्रेड पर नियुक्ति हैय यह नियुक्ति शास्त्री की डिग्री के आधार पर है. दरअसल, विपिन कुमार शर्मा ने वर्ष 2009 में विश्वविद्यालय व महाविद्यालय दोनों से शास्त्री की डिग्री हासिल की. जबकि विश्वविद्यालय और महाविद्यालय में एक ही सेशन में उपस्थिति संभव नहीं है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें