अब डेढ़ महीने नहीं बजेगी शहनाई, जानिए इस साल विवाह के शुभ मुहूर्त

Smart News Team, Last updated: Mon, 21st Feb 2022, 9:33 PM IST
  •  15 जनवरी 2022 से शुरू हुई शादियों का सिलसिला अब थमने जा रहा है. हिंदू पंचाग के मुताबिक विवाह के लिए आज यानि 21 फरवरी का दिन आखिरी तारीख साबित होने वाला है, जिसके बाद शादियों पर विराम लग जाएगा. इसके बाद कुछ महीनों तक शादी-विवाह के शुभ मुहूर्त नहीं हैं.
शादी-विवाह के शुभ मुहूर्त का आखिरी दिन

वराणसी : हिंदू धर्म में किसी भी मांगलिक कार्य के लिए शुभ मुहूर्त का काफी ध्यान दिया जाता है. खासतौर पर विवाह के लिए शुभ मुहूर्त का विशेष महत्व माना गया है. ऐसे में शादी की बात होती है तो सबसे पहले शुभ मुहूर्त पर ही विचार किया जाता है.  वहीं हिंदू पंचाग के मुताबिक  विवाह के लिए आज यानि 21 फरवरी का दिन आखिरी तारीख है. 

इन तारीख को शुभ मुहुर्त

इस विराम के बाद 2022 में शुभ मुहूर्त कुछ इस तरह बताया गया है कि अप्रैल में 15, 16, 17, 18, 19, 20, 21, 22, 23, 27 को शुभ मुहुर्त रहेगा. वहीं मई में 2, 3, 4, 9, 10, 11, 12, 13, 14, 15, 17, 18, 19, 20, 21, 24, 25, 26, 31 का दिन शादी के लिए शुभ माना गया है. अगर बात जून की करें तो इस माह में 1, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12, 13, 14, 15, 16, 17, 21, 22, 23 को विवाह किया जा सकता है.

पंचांग के हिसाब से 21 फरवरी यानि आज के बाद पूरे मार्च और अप्रैल के दो सप्ताह तक शादी के लिए कोई लग्न नहीं बताया गया है. वहीं डेढ़ महीने के विराम के बाद 15 अप्रैल से शादी के लिए शुभ लग्न की शुरुआत हो जाएगी. 

Phalgun 2022: आज से फाल्गुन महीना शुरू, कृष्ण के इस स्वरूप की पूजा से मिलेगा संतान सुख 

एक महीने तक मीन खरमास

ज्योतिष शास्त्रों का मानना है कि 23 फरवरी से 26 मार्च तक देवगरु बृहस्पति अस्त रहेंगे. साथ ही 14 मार्च से 14 अप्रैल तक मीन खरमास लगा रहेगा. इस महीने में कोई शुभ काम नहीं किया जाता है. यही कारण है कि शादी के लिए शुभ मुहूर्त नहीं रहेंगे. इसके अलावा 10 जुलाई देवशयनी एकादशी से 4 नवंबर देवोत्थान एकादशी तक चातुर्मास होने की वजह से 4 महीने विवाह आदि शुभ कार्य नहीं हो सकते हैं. 

आपको बता दें कि पिछले दो से कोरोना महामारी की वजह से शादियों का सीजन फीका चल रहा था, लेकिन अब कुछ राहत मिलते ही फिर से बैंड-बाजा और बारात का शोर गूंजने लगा है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें