वाराणसी को स्वच्छता, विकास के आधार पर स्मार्ट सिटी रैंकिंग में मिला पांचवा स्थान

Smart News Team, Last updated: Mon, 14th Dec 2020, 12:13 AM IST
काशी को स्मार्ट सिटी लाइव रैंकिंग में पांचवां स्थान मिला है. वहीं, इससे पूर्व काशी को पहला स्थान प्राप्त हुआ था. शहर को यह रैंकिंग स्वच्छता और विकास के आधार पर मिली है.
काशी को स्मार्ट सिटी रैंकिंग में मिला पांचवां स्थान

वाराणसी: स्मार्ट सिटी की नई रिपोर्ट के अनुसार वाराणसी को पांचवां स्थान प्राप्त हुआ है. इससे पहले की तिमाही के दौरान शहर पहले स्थान पर था. नए आंकड़ों के तहत वाराणसी को कुछ प्वाइंट्स का धक्का लगा जिसके कारण उसकी रैकिंग घट गई. इसी के चलते उसका स्थान चार पायदान नीचे गिरा. आपको बता दें कि दिसंबर के अंत तक फाइनल रैंकिंग जारी हो जाएगी. वैसे यह लाइव रैंकिंग हर तीन माह पर दी जाती है. जिसे केंद्रीय शहरी और विकास मंत्रालय द्वारा जारी किया जाता है.

वहीं, प्रदेश स्तर पर काशी दूसरे नंबर पर रही. काशी को यह रैंकिंग उसकी स्वच्छता और विकास की दौड़ में कुछ कदम में आगे बढ़ाने के लिए मिला है. जबकि आगरा ने इस बार बेहतर प्रदर्शन कर यूपी में टॉप रैंकिंग हासिल की. इस क्रम में कानपुर तीसरे, प्रयागराज चौथे और लखनऊ पांचवें पायदान पर खिसक गया. आगरा का देश भर में हुई रैंकिंग में उसे तीसरा स्थान मिला. इसके साथ अहमदाबाद राष्ट्रीय स्तर पर उच्च पायदान पर रुका और भोपाल दूसरे पर रहा. 

वाराणसी: लाइट एंड साउंड शो दोबारा हुआ शुरू, शो से पहले ही सभी टिकटें बुक

प्रदेश स्तर पर प्वाइंट्स देखें तो आगरा को पहले स्थान के साथ 83 मिले. जबकि, वाराणसी को 79.84 अंक के साथ दूसरा स्थान मिला. कानपुर को 72.98, प्रयागराज को 64.29 और लखनऊ को 62.83 प्वाइंट्स मिले. वहीं, केंद्रीय शहरी मंत्रालय ने स्मार्ट सिटी को बताया कि यह सिर्फ और सिर्फ सतत विकास के आधार पर दी गई. जहां हर शहर के अपने स्त्रोत होते हैं. इसके साथ ही वहां की संपदा का बदलवा में एक महत्वपूर्ण रोल होता है.

गोरखपुर यूनिवर्सिटी के पूर्व कुलपति प्रो. बेनी माधव शुक्ला का वाराणसी में निधन

वाराणसी: देश को एक सूत्र में जोड़ने के लिए गांव-गांव तक जाएंगे रामपंथ के आचार्य

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें