SP प्रमुख अखिलेश यादव वाराणसी पहुंचे, सपा कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत

Smart News Team, Last updated: Thu, 25th Feb 2021, 12:47 PM IST
  • सपा प्रमुख अखिलेश यादव अपने चार्टर विमान से वाराणसी पहुंचे. अखिलेश तीन दिनों के लिए पूर्वांचल दौरे पर रहेंगे. 
वाराणसी एयरपोर्ट पर अखिलेश यादव का स्वागत सपा कार्यकर्ता ने किया.

वाराणसी. यूपी पूर्व सीएम और सपा प्रमुख अखिलेश यादव गुरुवार को वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर पहुंचे. सपा प्रमुख लखनऊ से अपने चार्टर विमान से वाराणसी दोपहर 11.55 पर पहुंचे हैं. एयरपोर्ट पर अखिलेश यादव के स्वागत करने के लिए सपा कार्यकर्ताओं की भीड़ लग गई जिन्होनें उनके स्वागत में गर्मजोशी दिखाते हुए नारेबाजी भी की.

मुख्य रुप से मछली शहर सांसद पूर्व तुफानी सरोज, पूर्व जिलाध्यक्ष पीयूष यादव, पूर्व मंत्री सुरेंद्र पटेल, सपा जिला अध्यक्ष सुजीत यादव लक्कड़, पूर्व जिलाध्यक्ष अखिलेश मिश्रा, पूर्व मंत्री मनोज राय धुपचंडी, जुबेर, ओपी सिंह, पूर्व विधायक महेंद्र पटेल, प्रेम शंकर पांडेय पूर्व सेंट्रलबार अध्यक्ष वाराणसी, आनंद मौर्या, विनोद यादव किसमिस गुरु, नन्हे जायसवाल, शालनी यादव, राजेंद्र बहादुर यादव उपाध्यक्ष महाराष्ट्र, सहित कई सपा कार्यकर्ता एयरपोर्ट पर मौजूद रहे.  

वाराणसीः संत रविदास की मूर्ति स्थापना को लेकर दो पक्षों में विवाद, तनाव का माहौल

सपा कार्यकर्ताओं के साथ अखिलेश यादव अपने शेड्यूल के मुताबिक पूर्वांचल के कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के लिए निकल गए. जानकारी के अनुसार अखिलेश यादव एयरपोर्ट से पहले मछली शहर जाएंगे और वहां के पूर्व विधायक स्व. ज्वाला प्रसाद के घर जाकर श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे. वहीं इसके बाद वह मिर्जापुर के पकड़ी गांव में पुजारी स्व. कृष्ण कुमार को भी श्रद्धांजलि देंगे.  

सपा MP आज़म खान को योगी सरकार का झटका, लोकतंत्र सेनानी पेंशन लिस्ट से नाम काटा

मिर्जापुर के बाद अखिलेश यादव जौनपुर जाएंगे वहां स्व. हाजी अफजल अहमद के घर जाकर श्रद्धाजंलि अर्पित करेंगे. जौनपुर में रात्रि विश्राम के बाद वह 26 फरवरी को मिर्जापुर जाएंगे वहां पार्टी के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे. इसके बाद वह 27 फरवरी की सुबह वाराणसी में रविदास मंदिर जाएंगे. दर्शन पूजा के बाद दोपहर करीब एक बजे वह लखनऊ के लिए अपने विमान से रवाना होंगे. 

वाराणसी: मुंबई और केरल से आने वाले यात्री होंगे होम क्वॉरंटीन 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें