मोदी सरकार की उज्ज्वला योजना 2.0 से गरीबों की सजेगी रसोई, आवेदन के लिए ये जरुरी

Smart News Team, Last updated: Mon, 16th Aug 2021, 4:24 PM IST
  • प्रधानमंत्री न्यू उज्ज्वला योजना 2.0 की लॉन्चिंग हो गई है. जिसके शुरू करने का निर्देश शासन की तरफ से निर्देश मिलते ही आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दिया जाएगा. वहीं उज्ज्वला योजना के आवेदन प्रक्रिया के लिए क्राइटेरिया भी तय कर दिया गया है. जो पीएम उज्ज्वला योजना के आवेदन के लिए होना जरूरी है.
मोदी सरकार की उज्ज्वला योजना 2.0 से गरीबों की सजेगी रसोई आवेदन के लिए ये जरुरी

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में न्यू उज्ज्वला योजना 2.0 लांच किया है. जिसे पीएम मोदी ने वर्ड बायो फ्यूल डे पर इसका ऐलान किया था. न्यू उज्ज्वला योजना को लांच पिछली बार छूट गए गरीब परिवारों को इसका लाभ देने के लिए किया गया है. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभ से इस बार अवशेष बचे गरीबों की रसोई को गैस चूल्हे से सजाने की योजना सरकार की है. जिसके शुरू करने का निर्देश शासन की तरफ से आते ही इसके लिए आवेदन शुरू कर दिया जाएगा. 

सरकार का इस बार का टारगेट है कि जो परिवार इस योजना से पिछली बार अछूते रह गए थे, उन्हें इस बार इस योजना का लाभ दिलाना है. इस बार गैस कनेक्शन उन परिवारों को दिया जाएगा जो उज्ज्वला योजना के पहले चरण में शामिल नहीं हो पाए थे. इसके साथ ही इस बार उज्ज्वला योजना का लाभ लेने के लिए महिलाओं को राशन कार्ड और एड्रेस प्रूफ की जरूरत नहीं होगी. साथ ही जरूरतमंद परिवार अब खुद ही सेल्फ डिक्लेरेशन देकर इस योजना का लाभ ले सकता है. 

CM योगी का आदेश- यूपी में 23 अगस्त से क्लास 6 से 8 और एक सितंबर से खुलेंगे प्राइमरी स्कूल

न्यू उज्ज्वला योजना 2.0 में आवेशन करने की क्राइटेरिया

उज्ज्वला योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन एक महिला का होना चाहिए. साथ ही आवेदक महिला की उम्र 18 साल से ऊपर होनी चाहिए. महिला 18 साल से ऊपर होने के साथ वह बीपीएल परिवार से होनी चाहिए. वहीं आवेदन कर्ता महिला के पास बीपीएल कार्ड और राशन कार्ड भी होना चाहिए. इसके अलावा आवेदक महिला के परिवार में किसी भी सदस्य के नाम पर एलपीजी का कनेक्शन नहीं होना चाहिए. जो परिवार इस क्राइटेरिया में आएंगे उन्हें इस योजना का लाभ आसानी से मिल जाएगा. इस योजना के तहत महिलाओं को निशुल्क एलपीजी कनेक्शन के साथ भरा हुआ एक गैस सिलेंडर दिया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें