वाराणसी एयरपोर्ट पर खुद को CISF का जवान बताकर ऐसे ठग लिए पैसे

Smart News Team, Last updated: Mon, 24th May 2021, 9:59 PM IST
  • वाराणसी एयरपोर्ट पर एक ठग ने खुद को फर्जी सीआईएसएफ का जवान बताकर एक व्यक्ति से 35 हजार 600 रुपये की ठग लिए. ठग ने मोटरसाइकिल दिलाने के नाम पर पीड़ित से तय की गई रकम का ऑनलाइन भुगतान करवा लिया.
 फर्जी सीआईएसएफ का जवान बताकर की ठगी(प्रतीकात्मक तस्वीर)

वाराणसी। यूपी के वाराणसी के लालबहादुर शास्त्री अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर एक ठग ने खुद को फर्जी सीआईएसएफ का जवान बताकर लम्भुआ सुल्तानपुर के रहने वाले एक व्यक्ति से 35 हजार 600 रुपये की ठग लिए. जालसाजो ने मोटरसाइकिल दिलाने के नाम पर पीड़ित से तय की गई रकम का ऑनलाइन भुगतान करवा लिया. उसके बाद फर्जी जवान द्वारा पीड़ित व्यक्ति का फोन न उठाने पर उनको अपने साथ हुई धोखाधड़ी का पता चला.

इस घटना की जानकारी होने पर एयरपोर्ट के सीआईएसएफ अधिकारियों ने बताया कि इस तरह के धोखाधड़ी के मामलों को देखते हुए सीआईएसएफ मुख्यालय के द्वारा समय समय पर ट्वीट कर लोगों को सजग रहने के साथ यदि कोई व्यक्ति खुद को सीआईएसएफ का जवान बताता हैं तो उसकी जाँच पड़ताल करना चाहिए.

वाराणसी में लॉकडाउन बढ़ने के बाद नया आदेश जारी, जरूरी दुकानें 1 बजे तक खुलेंगी

इस तरह के ठगी के मामले पहले भी सामने आ चुके हैं. जिसमें ठग अपने आपको सीआईएसएफ का जवान बताकर वर्दी की फोटो के साथ पहचान पत्र भेजता है, जिसे देखकर कर सीधे सादे लोगो को उनके सीआइएसएफ जवान होने का विश्वास हो जाता है. इसके बाद फर्जी जवान पीड़ित से कहता है कि मोटरसाइकिल देखने और बाहर निकलने के लिए रुपये जमा कराने पड़ेंगे तभी पास बनेगा और उसके बाद ही गाड़ी को बाहर लेकर आने दिया जाएगा.

400 से अधिक साल बाद हुआ जनपदोध्वंस रक्षा अभिषेक, कोरोना से बचाव के लिए अनुष्ठान

पीड़ित व्यक्ति हंसराज को ठग ने विश्वास में लेकर पहले 2150 रुपये अपने एकाउंट में ट्रांसफर करा लिए. इसके बाद कहा कि बाकी के 33,450 रुपये भी ट्रांसफर करना पड़ेगा. जैसे ही पीड़ित ने उसके खाते में उक्त रकम भेजी, उसके बाद ही फर्जी जवान ने अपने मोबाइल को बंद कर लिया. लगातार फोन करने के बाद भी फर्जी जवान द्वारा फोन न उठाने पर भुक्तभोगी को पता चला कि उनके साथ ठगी हो गई है.

गोमती नदी के जलकुंभी में फंसकर एक युवक और 4 भैंस की मौत, मृतक के शव की तलाश जारी

ज्ञात हो कि तकरीबन 10 दिन पहले तालिब अंसारी चंदौली निवासी के साथ ऐसी ही ठगी का मामला सामने आया था. बीते साल गाजीपुर बिरनो के रहने वाले पुनीत पांडेय से 3100 रुपये की ठगी इसी तरह की गई थी. एयरपोर्ट के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह काफी सक्रिय हो गए हैं. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें