पैसा ले लिया और घर भी नहीं बेचा, पोजीशन मांगने पर गाली- गलौज और धमकी, FIR दर्ज

Smart News Team, Last updated: Mon, 4th Jan 2021, 6:54 PM IST
  • वाराणसी के ढाबा संचालक ने आरोप लगाया की लखनऊ में उनको मकान देने के नाम पर उनसे पैसा लिया गया. लेकिन अभी तक मकान का मालिकाना हक नहीं दिया गया. जब वो मकान का पोजीशन मांगते है. तो उनके साथ गली- ग्लौज किया किया जाता है. पीड़ित ने एफआईआर दर्ज कराया है.
crime news

वाराणसी: रोहनिया थाना क्षेत्र के अमरा अखरी इलाके स्थित चंद्रिका नगर कॉलोनी मे रहने वाले शिव प्रकाश पाण्डेय ने सोमवार को लंका थाना मे मकान बेचने के नाम पर पैसे लेकर धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया है. अहमामऊ सुल्तानपुर रोड स्थित पृथ्वीपुर कॉलोनी में रहने वाले ऐश्वर्या त्रिपाठी और अनिल त्रिपाठी के खिलाफ शिव प्रकाश पाण्डेय ने कूटरचित, धोखाधड़ी, चेक बुक चुराने और गाली-गलौज का मुक़दमा दर्ज कराया है.

शिव प्रकाश पाण्डेय का आरोप है कि वर्ष 2018 में नुवाव स्थित ढाबा पर आते जाते ऐश्वर्या और अनिल से परिचय हुआ. दोनों ने लखनऊ में स्थित अपने घर को बेचने के ख्याल से दिखाया और 65 लाख मे बिक्री तय हुआ. इस बीच शिव प्रकाश ने 1 लाख रुपए एडवांस के तौर पर ऐश्वर्या और अनिल को दे दिए.

पूर्व CM अखिलेश यादव के खिलाफ थाने में तहरीर, BJP कार्यकर्ताओं ने की केस की मांग

शिव प्रकाश के अनुसार इसके बाद एक दिन अनिल की मां होटल आ कर शिव प्रकाश से पैसों की जरुरत का हवाला देते हुए पैसे की मांग करने लगी. अनिल और ऐश्वर्या, शिव प्रकाश के होटल के कर्मचारियों से पूर्व परिचित होने के कारण कर्मचारी दोनों को होटल मे छोड़ कर कुछ देर के लिए काम से बाहर चले गए. जिसके दौरान अनिल ऐश्वर्या और अनिल ने काउंटर मे रखी शिव प्रकाश के गोमती बैंक एकाउंट का चेक बुक चुरा लिया और बाद में ब्लैकमेल करने लगे.

खुद को BJP नेता बताने वाले युवकों ने शराब पीकर अस्पताल में किया हंगामा, केस दर्ज

इसके बाद शिव प्रकाश ने अपने किसी परिचित के अकाउंट से 30 लाख रुपए आरटीजीएस के माध्यम से अनिल और ऐश्वर्या को पैसे ट्रांसफर करवाया. लेकिन इसके बाद भी दोनों ने घर शिव प्रकाश को बेचने से इंकार कर फोन पर बातचीत करने की जगह गाली-गलौज और धमकी देने लगे. लंका थाने मे एफआईआर दर्ज कर मामले की छानबीन की जा रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें