सारनाथ महात्मा बुद्ध परिसर पर हंगामा, लाइट व साउंड शो नहीं देख पाए पर्यटक

Smart News Team, Last updated: 06/12/2020 12:09 AM IST
  • वाराणसी के सारनाथ में स्थित महात्मा बुद्ध के परिसर पर शनिवार को अधिक प्रयटक पहुंचने. परिसर के अंदर प्रवेश नहीं कर पाए सैलानियों ने परिसर के गेट के सामने खड़े होकर हंगमा किया. जिसके चलते शनिवार केलाइट और साउंड शो को रोक दिया गया.
सारनाथ के महात्मा बुद्ध के लाइट और साउंड शो को रोका गया

वाराणसी. सारनाथ में बुद्ध के जीवन पर आधारित प्रतिदिन लाइट और साउंड शो दिखाया जाता है. जिसे देखने के हर दिन सैकड़ो की तादात में लोग पहुच रहे है. इसी तरह शनिवार की रात को महात्मा बुद्ध के ऊपर दिखाये जा रहे लाइट शो को देखने के लिए तय सीमा से अधिक सैलानी पहुंच गए. जिसके बाद तय किए गए सिमा के बाद किसी अन्य को अंदर नहीं जाने दिया गया. जो सैलानी मंदिर के अंदर प्रवेश नहीं कर पाए उन्होंने ने उसके बाहर हंगामा करना शुरू कर दिया. साथ ही वहां के कर्मचारियों से नोकझोंक भी किया.

वाराणसी: लंका थाना क्षेत्र में नकद रुपये और लाखों के जेवरात चोर लेकर फरार

आपको बता दे कि महात्मा बुद्ध के जीवन पर आधारित उनके मंदिर परिसर में लाइट और साउंड शो किया जाता है. जिसे देखने के लिए पर्यटन अपने परिवार और साथियों के साथ वहां पर पहुचते है. इस कोरोना काल मे परिसर के अंदर सिर्फ 50 लोगो को ही प्रवेश दिया जाता है. जिसके लिए साम 7 बजे तक सैलानियों को प्रवेश दिया जाता है, लेकिन शनिवार को अधिक सैलानियों के पहुँचने के चलते सभी को प्रवेश नहीं दिया गया. जो पर्यटक परिसर के अंदर प्रवेश नहीं पा पाए तो वह पुरातात्विक परिसर के गेट के सामने कतार में खड़े हो गए.

वाराणसी:फत्तेहपुर में 1500 बोझ धान की फसल जलकर राख, गांव में तनाव का माहौल

पर्यटकों द्वारा परिसर के गेट पर किए गए हंगामे के बारे में पुरातत्व अधिकारियों ने बताया कि खंडहर परिसर के अंदर कोरोना के चलते 50 से ज्यादा लोगो को प्रवेश नही दिया जाता है. शनिवार की शाम को जिन लोगों को परिसर के अंदर प्रवेश नही पाया उन्होंने परिसर के अंदर प्रवेश को लेकर पुरातत्व कर्मियों से धक्का-मुक्की और नोकझोंक किया. स्थिति को बिगड़ता हुआ देख पर्यटक पुलिस के जवान प्रोजेक्ट कक्ष में जाकर बैठ गए. जिसके बाद शनिवार को होने वाले शो को रोक दिया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें