विश्वनाथ के बाद अब पूरे वाराणसी को बदलने की तैयारी, CM योगी कैबिनेट में पास हुए ये प्रस्ताव

Shubham Bajpai, Last updated: Thu, 16th Dec 2021, 10:34 AM IST
  • यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार काशी विश्वनाथ कॉरिडोर बनने के साथ अब पूरे वाराणसी की तस्वीर बदलने की तैयारी करने जा रही है. इसमें सड़क चौड़ीकरण को लेकर कई प्रस्ताव योगी कैबिनेट में रखे गए थे. जिसे कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है. इन योजनाओं के धरातल पर आने के बाद आमजन और पर्यटकों को इसका सीधा फायदा मिलेगा.
विश्वनाथ के बाद अब पूरे वाराणसी को बदलने की तैयारी, CM योगी कैबिनेट में पास हुए ये प्रस्ताव

वाराणसी. यूपी चुनाव से पहले काशी विश्वनाथ के कॉरिडोर के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकार्पण के बाद पूरे वाराणसी को बदलने की तैयारी की जा रही है. इसके तहत शहर में वो बदलाव किए जाएंगे जिससे शहर में आमजन और पर्यटकों की कई समस्या का निस्तारण निकलेगा. प्रोजेक्ट में सड़क के चौड़ीकरण को लेकर कई प्रोजेक्ट है. इन सभी प्रोजेक्ट को शहरी इलाकों में किया जाएगा. इसको लेकर योगी आदित्यनाथ कैबिनेट ने सभी प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है.

काशी विश्वनाथ के बाद अब काशी में बनेगा रोप वे

योगी आदित्यनाथ की सरकार काशी में रोप वे बनाने की तैयारी कर रही है. ये रोप वे कैंट स्टेशन से गोदौलिया के गिरजाघर क्रासिंग तक बनाया जाएगा. 3.65 किमी लंबे इस रोप वे में 4 स्टेशन होंगे. ये वहीं स्थान है जहां आधी रात को पीएम मोदी ने पैदल ही निरीक्षण किया था.

UPSSSC Jobs: यूपी में महिलाओं की 9 हजार से ज्यादा पदों पर भर्ती, ऐसे करें अप्लाई

410 करोड़ की लागत से होगा तैयार, रोज 80 हजार यात्री करेंगे सफर

इस रोप वे को योगी कैबिनेट में मुहर लगने के बाद जल्द ही बनना शुरू हो जाएगा. 410 करोड़ रुपये खर्च करकर बनाए जा रहे इस रोप वे में रोज 80 हजार के करीब यात्री चलेंगे. ये रोप वे पीपीपी मॉडल में बनकर तैयार हो रहा है. इसमें 20 फीसदी वायबिल्टी गैप फंडिंग केंद्र, 20 फीसदी राज्य सरकार व 60 फीसदी खर्च कंसेशनयेर द्वारा किया जाएगा. इस फैसले के बाद केंद्र सरकार ने सैद्धातिक मंजूरी दे दी है.

रोप वे से घनी आबादी वाले इलाकों में कम होगा यातायात दबाव

जानकारी अनुसार, इस रोप वे के लिए आवास विभाग ने पहले ही पीपीपी गाइडलाइंस के अंतर्गत इवैलुएशन कमेटी गठित की है. इसके लिए मूल आरएफपी डॉक्यूमेंट व ड्राफ्ट कंसेएशन एग्रीमेंट व संशोधन फिजिबिलिटी रिपोर्ट के साथ प्रस्ताव तैयार हुआ था. इस रोप वे के बनने के साथ ही घनी आबादी वाले इलाकों में यातायात में दबाव कम होगा. . इसमें नगरवासियों व श्रद्धालुओं को त्वरित आरामदायक व कम लागत की परिवहन व्यवस्था उपलब्ध होगी.

UP DA Hike: सरकारी कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़कर 31 पर्सेंट, जुलाई से एरियर

इन सड़कों का भी होगा निर्माण

कैबिनेट में मंजूरी के बाद वाराणसी में कालीमाता मंदिर से आवास विकास कॉलोनी होते हुए वाराणशी आजमगढञ रोड तक 2.4 किमी में 2 व 4.10 किमी में 4 लेन चौड़ीकरण और कई कार्य को मंजूरी मिल गई है. साथ ही लहरतारा से बीएचयू, रविंद्रपुरी से रोड बनाने का काम हो रहा है. साथ ही कचहरी से आशापुर चौराहे होते हुए संदहा तक चौड़ीकरण के कार्य को कैबिने में मंजूरी मिली है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें