वाराणसी के सैकड़ों छात्रों का यूपी बोर्ड रिजल्ट नहीं हुआ जारी, ये है कारण

Smart News Team, Last updated: Tue, 3rd Aug 2021, 12:57 PM IST
उत्तर प्रदेश बोर्ड के 10वीं और 12वीं के छात्र जारी हो गए हैं. हालांकि फिर भी सैकड़ों छात्रों के नतीजे अभी रूके हुए हैं, इसका कारण परीक्षा फॉर्म में नंबर और नाम चढ़ाने में गड़बड़ी है. इसके साथ ही बोर्ड की तरफ से कुछ छात्रों के पिछले अंक अपलोड न होने की लापरवाही भी इसका मुख्य कारण है.
यूपी बोर्ड के सैकड़ों छात्रों का रिजल्ट अभी नहीं आया

वाराणसी. उत्तर प्रदेश बोर्ड की दसवीं और 12वीं कक्षा के नतीजे घोषित होने के बाद जिले के सैकड़ों छात्र-छात्राओं का रिजल्ट अभी भी नहीं आया है. इन छात्रों का रिजल्ट किसी न किसी कारण से रुक गया है, हालांकि इन रिजल्ट की रुकने की वजह मामूली हैं. क्योंकि जिन छात्रों के रिजल्ट रुके हैं उनमें ज्यादातर रिजल्ट नाम लिखने में मात्राओं की गड़बड़ी के कारण रोके गए हैं क्योंकि सॉफ्टवेयर इनका मिलान नहीं कर पा रहा था.

बोर्ड कार्यालय के अधिकारियों का अंदाज है कि जिले में करीब पांच सौ से ज्यादा छात्रों के रिजल्ट रुकने के पीछे नंबरों के मिलान की समस्या भी है. इस मामले में माध्यमिक शिक्षा परिषद के अपर सचिव सतीश सिंह ने बताया कि रिजल्ट रोके जाने के पीछे विद्यार्थियों का नाम न मिलना, मार्कशीट स्पष्ट न होना, नाम लिखने में गड़बड़ी आदि कारण शामिल हैं. इनके अलावा दूसरे बोर्ड से आए उन बच्चों के रिजल्ट रोके गए हैं जिनके पिछले अंकों का रिकार्ड नहीं मिल सका है. वहीं प्राइवेट परीक्षार्थियों के तौर पर फार्म भरने वाले ऐसे विद्यार्थियों के रिजल्ट भी रुके हैं जिनकी पिछली परीक्षाओं के अंक 99 या 100 प्रतिशत लिखकर भेजे गए हैं.

रुके हुए रिजल्ट जारी करने के लिए अपर सचिव ने बताया कि रोके गए रिजल्ट के लिए प्रधानाचार्यों को दोबारा डेटा भेजना और अपलोड करना होगा. इस संबंध में बोर्ड से जल्द ही सूचना भेजी जाएगी और रिजल्ट संबंधी दिक्कतों और शिकायतों के लिए बोर्ड कार्यालय में हेल्प डेस्क खोला गया है.

यूपी बोर्ड परीक्षा परिणाम को लेकर आपत्ति दर्ज कराने के लिए फोन नंबर जारी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें