108 साल बाद काशी विश्वनाथ धाम में विराजी मां अन्नपूर्णा, CM योगी बाबा दरबार तक लेकर गए पालकी

Swati Gautam, Last updated: Mon, 15th Nov 2021, 2:00 PM IST
  • सौ साल से ज्यादा वर्षों के लंबे इंतजार के बाद कनाडा से काशी लाई गई माता अन्नपूर्णा की मूर्ति सोमवार को काशी विश्वनाथ धाम में प्रतिष्ठित हो गईं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पालकी को अपने हाथों से लेकर अंदर बाबा दरबार तक पहुंचे. माता अन्नपूर्णा की इस प्रतिमा को एक झलक पाने के लिए हजारों की संख्या में भीड़ उमड़ पड़ी.
सालों बाद काशी विश्वनाथ धाम में विराजी मां अन्नपूर्णा, CM योगी बाबा दरबार तक लेकर गए पालकी. file photo

वाराणसी. सौ साल से ज्यादा वर्षों के लंबे इंतजार के बाद कनाडा से काशी लाई गई माता अन्नपूर्णा की मूर्ति सोमवार को काशी विश्वनाथ धाम में प्रतिष्ठित हो गईं. सोमवार सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वैदिक विधान से माता की मूर्ति की पूजा कर स्थापना का विधान पूर्ण किया. बता दें कि अन्नपूर्णा माता की यह मूर्ति 107 वर्ष पहले वाराणसी से चोरी हुई थी जिसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों के बाद कनाडा से यह प्रतिमा दिल्ली पहुंची थी. माता अन्नपूर्णा की इस प्रतिमा को देखने के भीड़ उमड़ पड़ी है. माता की एक झलक पाने को लोग आस पास के छतों पर भी दिखे.

कुलपति आवास से आई चांदी की रजत पालकी से माता अन्नपूर्णा विराजी तो जगह जगह फूलों की वर्षा की गई. इस अवसर पर पूरे मन्दिर परिषर को फूलों से सजाया गया था वहीं भारी संख्या में डमरू दल रहा था. चौराहे गलियों छतों तक भक्तों का सैलाब उमड़ आया. सभी माता की एक झलक पाने को बेचैन थे. बता दें कि माता अन्नपूर्णा की मूर्ति स्थापना से पहले चांदी का मुकुट, सोने की हार और कंगन अर्पित किया गया. काशी में माता अन्नपूर्णा को पहला भेंट माना जा रहा है. इसके बाद मूर्ति स्थापना के दौरान भी लोगों ने माता को भेंट देकर स्वागत किया गया.

वाराणसी के विश्वनाथ मंदिर में CM योगी ने किया 108 साल पहले चोरी हुई मां अन्नपूर्णा की प्रतिमा को पुनर्स्थापित

अन्नपूर्णा माता की मूर्ति माता के उद्घोष के साथ गोदौलिया चौराहे पहुंची. वहां आम जन लोगो ने माता की आरती व की डमरू दल साथ चल रहा था. द्वार के अंदर जाते ही 11 वैदिक ब्राह्मणों द्वारा माता को रजत पालकी में विराजमान किया गया. वहां साक्षी बने मुख्यमंत्री ने पालकी को अपने हाथों से लेकर अंदर बाबा दरबार मे पहुंचे फिर प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम चालू हुआ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ माता अन्नपूर्णा के प्राण प्रतिष्ठा कर बाबा दर्शन कर प्रसाद लेकर निकले गये. इस दौरान अन्नपूर्णा मन्दिर में महन्त व विद्धवत परिषद समेत अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें