UP पंचायत चुनाव: जिला पंचायत की सभी सीटों पर इलेक्शन लड़ेगी AAP: संजय सिंह

Smart News Team, Last updated: Sun, 28th Mar 2021, 12:27 PM IST
  • आम आदमी पार्टी यूपी पंचायत चुनाव में जिला पंचायत की सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी. इसकी घोषणा आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद और आप के यूपी प्रभारी संजय सिंह ने वाराणसी में की,
UP पंचायत चुनाव: जिला पंचायत की सभी सीटों पर इलेक्शन लड़ेगी AAP: संजय सिंह (फ़ाइल फ़ोटो)

लखनऊ: पंजाब और गुजरात के स्थानीय और नगर निगम के चुनाव में अच्छा प्रदर्शन के बाद बुलंद हौसले के साथ आम आदमी पार्टी यूपी पंचायत चुनाव में जिला पंचायत की सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी. इसकी घोषणा आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद और आप के यूपी प्रभारी संजय सिंह ने वाराणसी में की, वो बलिया जा रहे थे लेकिन अस्सी घाट पर स्थित एक कार्यकर्ता के घर पर कुछ देर के लिए रुके थे.

वहीं मीडिया से बातचीत में उन्होंने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में हाहाकार मचा हुआ है. अपराधी बेलगाम हैं. बेरोजगारी चरम पर है. नौजवान, किसान, व्यापारी निराशा में आत्महत्या कर रहे है. उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार अलोकतांत्रिक तरीके से दिल्ली सरकार को कमजोर कर रही है.

विमान में यात्री का हंगामा, मां से मिलने की बात कहकर खोलने लगा इमरजेंसी गेट

इसके बाद वह बलिया में पार्टी के कार्यक्रम में शामिल हुए जहां उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से यूपी पंचायत चुनाव में सभी जिला पंचायत सीटों पर चुनाव लड़ने सम्बन्धित चर्चा किया और कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. वहां उन्होंने तीन कृषि कानूनों और किसानों के आंदोलन के बारे में भी बात की. उन्होंने कहा की किसान 4 महीनों से सड़कों पर है. उन्होंने कहा कि PM मोदी ने कहा था की वह किसनों से एक कॉल की दूरी पर हैं, क्या आज तक कॉल पूरी नहीं हो पाई. तीन कृषि कानूनों के बारे में उन्होंने कहा की ये कानून चांद पूंजीपतियों के लिए है.

पंचायत इलेक्शन: चुनाव आयोग का आदेश, समाधान दिवस, थाना दिवस पर रोक

इसके पूर्व उन्होंने पंचायत चुनाव के संबंध में पार्टी के स्थानीय नेताओं के साथ बैठक भी की. बैठक में प्रदेश सह प्रभारी अभिनव राय, राजेश यादव, प्रदेश प्रवक्ता मुकेश सिंह, देवकांत वर्मा, आशीष पटेल, कैलाश पटेल, अखिलेश पांडेय, अरविंद पटेल, घनश्याम पांडेय, एजाज अहमद, अर्पित गिरी, रेखा जायसवाल, बिहारी लाल सिंह, मुन्ना सेठ, आशिफ खां, मनीष गुप्ता आदि मौजूद थे.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें