UP पंचायत चुनाव: जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भिड़े, गए जेल

Smart News Team, Last updated: Sat, 27th Mar 2021, 5:15 PM IST
  • वाराणसी के रोहनिया थाना क्षेत्र के पंडितपुर गांव से हैं. यहां जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी के समर्थक आपस में भिड़ गए
UP पंचायत चुनाव: जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भिड़े, गए जेल (प्रतीकात्मक तस्वीर()

वाराणसी: यूपी में पंचायत चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद चुनावी सरगर्मी सर चढ़कर बोल रही है. इसी बीच प्रत्याशियों के आपस में टकराने की खबर भी आ रही है. ऐसी ही एक खबर वाराणसी के रोहनिया थाना क्षेत्र के पंडितपुर गांव से हैं. यहां जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी के समर्थक आपस में भिड़ गए. जिसके बाद एक पक्ष रोहनिया थाने में शिकायती प्रार्थना पत्र देकर धरने पर बैठ गया तब तक दूसरा पक्ष भी थाने पर आ गया और देखते ही देखते दोनों पक्ष फिर आपस में थाने में ही भिड़ गए. पुलिस ने बीच-बचाव कर मामला शांत कराया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार काशी विद्यापीठ विकासखंड के सेक्टर नंबर 3 से जिला पंचायत सदस्य के प्रत्याशी उषा यादव पत्नी राजेश यादव चुनाव लड़ रही हैं और इसी सेक्टर से पूनम मौर्या पत्नी कुंवर वीरेंद्र प्रताप सिंह भी चुनाव लड़ रही हैं, प्रत्याशी उषा यादव पत्नी राजेश यादव का आरोप है कि उनका लड़का अपनी मां का चुनाव प्रचार कर रहा था इसी बीच उषा मौर्य के समर्थकों ने उसे मारा पीटा उसके बाद वो रोहनिया थाने पहुंचा और परिजनों को सूचित किया तब तक राजेश यादव भी खुद थाने पहुंच गया और प्रार्थना पत्र दिया था.

सुप्रीम कोर्ट का आदेश, मुख़्तार अंसारी को पंजाब जेल से यूपी शिफ्ट किया जाए

राजेश यादव ने आरोप लगाया कि तभी उषा मौर्य पत्नी कुंवर विरेन्द्र प्रताप सिंह के समर्थकों ने थाने में ही राजेश यादव के लोगों के साथ मारपीट गाली-गलौज करने लगे, जबकि दूसरे पक्ष का आरोप है कि यह हमारा वीडियो बना रहे थे और हमें गाली गलौज करें थे जिस कारण यह समस्या उत्पन्न हुई. रोहनिया थाने में दोनों पक्ष आपस में पुलिस के सामने ही हाथापाई करने लगे थाने पर मौजूद सिपाही दरोगा ने बीच-बचाव कर लोगों को हिरासत में ले लिया.

UP पंचायत चुनाव 2021 तारीख: 3 अप्रैल से नामांकन, 15 अप्रैल से मतदान, 2 मई को मतगणना

इस बारे में उप निरीक्षक इंदु कांत पांडे का कहना था कि एक पक्ष से राजेश यादव, दयाशंकर यादव, विक्की यादव, संजय यादव को व दूसरे पक्ष से कुंवर वीरेंद्र सिंह व कुंवर सिद्धार्थ सिंह को गिरफ्तार कर 151 की कार्रवाई कर शांतिभंग में चालान किया गया है. कुछ देर के लिए थाने पर अफरा-तफरी मच गई थी पहले तो निवर्तमान जिला पंचायत सदस्य राजेश यादव कुछ देर धरना पर बैठे उसके बाद देखते ही देखते दोनों पक्षों में गाली-गलौज और हाथापाई होने लगी और थाना परिसर पर दोनों प्रत्याशियों के समर्थकों की काफी भीड़ लगी रही.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें