कोविड मरीज का शव नाले में बहने के ट्वीट पर एक्शन, रिटायर्ड IAS पर केस की तैयारी

Smart News Team, Last updated: Sun, 9th May 2021, 11:38 PM IST
  • रिटायर्ड आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने एक वीडियो ट्वीट करते हुए कहा कि कोरोना पॉजिटिव का शव वाराणसी में नाले में मिला. पुलिस ने जांच में पाया कि ये वीडियो 2020 का है. जिसके बाद रिटायर्ड आईएएस पर कार्रवाई की जा रही है.
पुलिस ने रिटायर्ड आईएएस के ट्वीट पर एक्शन की तैयारी कर ली है.

वाराणसी. कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच रिटायर्ड आईएएस सूर्यप्रताप सिंह पर मुकदमा किया जा रहा है. दरअसल, उन्होंने एक साल पुराने वीडियो का ट्वीट करते हुए कोविड से संबंधित बताया था. कहा गया कि एक कोविड मरीज का शव नाले में मिला. जिसके बाद शासन-प्रशासन में हड़कंप मच गया. बाद में पुलिस ने जवाब भी दिया कि इस प्रकार की कोई भी घटना वाराणसी में नहीं हुई है. इस मामले में रिटायर्ड आईएएस पर लंका थाने में केस दर्ज किया जा रहा है.

इस मामले के बारे में वाराणसी पुलिस ने कहा कि एक कोरोना मरीज का शव नाले में मिलने के संबंध में कुछ ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया गया है और एक वीडियो डाला गया है. उसकी तत्काल जांच क्षेत्राधिकारी भेलूपुर से करवाई गई. पुलिस ने बताया कि वर्तमान में जो वीडियो डाला गया है वैसी वाराणसी कमिश्नरेट में कोई घटना नहीं हुई है.

वाराणसी: कोरोना संक्रमित के घर पहुंचे CM योगी, दी मेडिकल किट, ग्रामीणों ने की ये मांग

पुलिस ने ये भी बताया कि जो वीडियो सोशल मीडिया पर डाला गया है, वो 24 अगस्त 2020 का पाया गया है. उस मामले में संयुक्त मैजिस्ट्रीयल जांच पूर्व में संपादित की जा चुकी है और कोई कार्यवाही शेष नहीं है. पुलिस ने कहा कि इस वीडियो के संबंध में कई आपत्तिजनक चीजें और अफवाह ट्विटर पर डाली जा रही है. इसके संबंध में हम जांच कर रहे हैं और विधिक कार्यवाही भी की जा रही है.

वाराणसी पहुंचे CM योगी आदित्यनाथ, DRDO के कोविड अस्पताल का लिया जायजा

रिटायर्ड आइएएस सूर्य प्रताप सिंह ने एक वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि योगी जी केवल उछलकूद से काम नहीं चलेगा, परिणाम भी चाहिए. आप आज वाराणसी में समीक्षा कर रहे हैं. जरा गरीब के इस रुदन को भी सुन लीजिएगा. वाराणसी के इस अस्पताल में एडमिट कोरोना पाॅजिटिव का शव नाले में मिला. दो दिन से मरीज लापता था, परिजन खोज रहे थे.

वरिष्ठ पत्रकार और MCU के पूर्व वीसी अच्युतानंद के बेटे का लखनऊ में कोरोना से मौत

इस ट्वीट के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया. पुलिस ने जांच की और इस ट्वीट का जवाब दिया. जिसके बाद सूर्य प्रताप सिंह ने कहा कि मेरे द्वारा ट्वीट में दी गई जानकारी सही थी, कोराना मरीज का शव नाले में मिला था. चूंकि ये मामला 24 अगस्त 2020 का था इसलिए ये ट्वीट डिलीट कर रहा हूं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें