आवारा कुत्ते को कुचलने वाली स्कॉर्पियो पुलिस ने की जब्त, कार मालिक की तलाश में जुटी

Smart News Team, Last updated: Mon, 16th Aug 2021, 7:13 PM IST
  • वाराणसी में एक आवारा कुत्ते को स्कोर्पियो कार से कुचलकर मारने का मामला सामने आया है. जिसमें कार मालिक के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया है. वहीं स्ट्रीट डॉग के पोस्टमार्टम के लिए मेनका गांधी ने संबंधित अधिकारियों को फोन करके निर्देश दिया. जिसके बाद कुत्ते का पोस्टमार्टम हो सका.
आवारा कुत्ते को कुचलने वाली स्कॉर्पियो पुलिस ने की जब्त कार मालिक की तलाश में जुटी(प्रतीकात्मक फोटो)

वाराणसी. वाराणसी में एक आवारा कुत्ते को स्कोर्पियो कार से कुचलने के मामला सामने आया है. जिसकी शिकायत दर्ज होने के बाद वाराणसी पुलिस ने कार्रवाई करते हुए स्ट्रीट डॉग को कुचलने वाली स्कोर्पियो कार को जब्त कर लिया है. साथ ही कार के मालिक की तलाश में जुट गई है. बनारस में आवारा कुत्ते के हत्या कर मामले में सबसे शर्मनाक बात तो यह है कि पुलिस ने कार्रवाई तब शुरू की जब बीजेपी नेता व एनिमल संस्था की संस्थापक मेनका गांधी ने इस केस को संज्ञान में लिया. 

जानकारी के अनुसार वाराणसी के सिगरा थाना क्षेत्र के विजय नगर मार्किट के पास गुरुवार को एक अनियंत्रित स्कोर्पियो कार ने एक आवारा कुत्ते को अनिल कुमार सिंह ने कुचल दिया. जिसके खिलाफ सामाजिक कार्यकर्ता विशाल सिंह ने आरोपी के खिलाफ थाने में पशु  क्रूरता निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज करवाया था. मुकदमा दर्ज करवाने के बाद कुत्ते के पोस्टमार्टम के लिए टाल मटोल होने लगा. सीडीओ, अपर नगर आयुक्त और पशु चिकित्साधिकारी एक दूसरे के ऊपर जिम्मेदारी थोपने रहे. 

CM योगी का आदेश- यूपी में 23 अगस्त से क्लास 6 से 8 और एक सितंबर से खुलेंगे प्राइमरी स्कूल

यह बात जब मेनका गांधी को पता चली थी उन्होंने तत्काल इस मामले को संज्ञान में लेते हुए संबंधित अधिकारियों को फोन करके पोस्टमार्टम के लिए कहा. जिसके बाद पशु चिकित्साधिकारी और थाने की पुलिस ने शुक्रवार को कुत्ते का पोस्टमार्टम करवाया. साथ ही स्कोर्पियो मालिक की तलाश में एक टीम को भी लगाया. वहीं पुलिस घटनास्थल के आसपास लजे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है. 

बताया जा रहा है कि विजय नगर मार्केट के पास सड़क किनारे एक कुत्ता सोया हुआ था. इसी बीच गेस्ट हाउस के मालिक अपनी स्कोर्पियो से वहां से निकले और कुत्ते को गाड़ी से रौंदते हुए वहां से निकल गए. जिसका पता विशाल सिंह को चला तो वह तुरंत मौके पर पहुंचे. आठ ही इसका विरोध किया. इस विरोध के दौरान आरोपी अनिल सिंह ने कहा कि कुत्ते की ही तो मौत हुई है, आदमी थोड़ी न मरा है. जिसके बाद विशाल सिंह ने थाने में तहरीर देते हुए आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें