वाराणसी: शिक्षा विभाग की बड़ी लापरवाही, बिना पढ़ाए शिक्षकों को 1 करोड़ 70 लाख दिए वेतन

Somya Sri, Last updated: Thu, 9th Sep 2021, 10:42 AM IST
  • शिक्षा विभाग ने शहर के 70 ऐसे शिक्षकों को वेतन दे दिए जिसने अपना काम ही नहीं किया. वाराणसी के परिषदय स्कूल के 70 शिक्षकों ने पढ़ाया ही नहीं लेकिन शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने उन्हें हर महीने लाखों रुपए वेतन दे दिए.
वाराणसी: शिक्षा विभाग की बड़ी लापरवाही, बिना पढ़ाए शिक्षकों को 1 करोड़ 70 लाख दिए वेतन (प्रतिकात्मक फोटो)

वाराणसी: वाराणसी में शिक्षा विभाग की बड़ी लापरवाही देखने को मिली है. शिक्षा विभाग ने शहर के 70 ऐसे शिक्षकों को वेतन दे दिए जिसने अपना काम ही नहीं किया. वाराणसी के परिषदय स्कूल के 70 शिक्षकों ने पढ़ाया ही नहीं लेकिन शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने उन्हें हर महीने लाखों रुपए वेतन दे दिए. शिक्षा विभाग ने 70 शिक्षकों को 1 करोड़ 70 लाख 50 हजार वेतन के तौर पर दिए हैं.

शिक्षा विभाग के अधिकारियों की लापरवाही की वजह से इन 70 शिक्षकों को विद्यालय आवंटन नहीं हो पाया है. जिस वजह से शिक्षक काफी परेशान हैं. तो वही वाराणसी के कई स्कूलों में बिना शिक्षक के अभाव में ही स्कूल चलाए जा रहे हैं. इन शिक्षकों में 48 ऐसे शिक्षक हैं, जिनको छह महीने में 1,58,40,000 और 22 शिक्षकों को एक महीने का वेतन 12,10,000 मिल चुका है.

वाराणसी डीएम ने किया हाईवे कार्य का औचक निरीक्षण, काम में लेटलतीफी से हुए नाराज

बीएसए राकेश सिंह ने कहा कि शासन की ओर से इन शिक्षकों के लिए दिशा-निर्देश नहीं प्राप्त हो सके हैं. इस वजह से इन शिक्षकों का विद्यालय आवंटन नहीं हो सका है. उम्मीद है दस दिन के भीतर शिक्षकों को विद्यालय का आवंटन पूरा हो जाएगा.

मालूम हो कि विद्यालय आवंटन नहीं होने के कारण शिक्षकों ने इसके खिलाफ प्रदर्शन भी किया है. बुधवार को जिले के माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षक पहुंचकर पढ़ाने के बजाय सरकार के फैसले के विरोध में नारेबाजी कर प्रदर्शन किया. उन्होंने सरकार को ठोस कार्यवाही करने की मांग उठाई है. उन्होंने चेतावनी दी है कि उनकी मांग नहीं मानी जायेगी तो वे 20 सितंबर को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर धरना देंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें