वाराणसी : मानव संपदा पोर्टल पर विवरण फीड होने से पूर्व होगा सत्यापन

Smart News Team, Last updated: Sat, 23rd Jan 2021, 4:05 PM IST
  • बेसिक शिक्षा विभाग में मानव संपदा पोर्टल पर अधिकारियों शिक्षकों और कर्मचारियों का विवरण फीड करने से पहले उनका सत्यापन किया जाएगा. सत्यापन ना कराने वाले कर्मचारियों की जांच एसटीएफ से भी कराई जाएगी. इससे फर्जी कागजातों पर नौकरी पाने वाले लोगों पर अंकुश लगाना संभव होगा.
मानव संपदा पोर्टल

वाराणसी : बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षा निदेशक डॉक्टर सर्वेंद्र विक्रम बहादुर सिंह ने प्रदेश भर के सभी अधिकारियों शिक्षकों शिक्षा मित्रों और अनुदेशकों के सेवा विवरण व सेवा पुस्तिका का सत्यापन कराने का निर्णय लिया है. इसको लेकर शिक्षा निदेशक ने आदेश भी जारी कर दिया है. मानव संपदा पोर्टल पर विवरण अपलोड करने से पहले सत्यापन कार्य पूरा किया जाएगा. जो अधिकारी कर्मचारी व टीचर सत्यापन नहीं कराएंगे उन पर एफआईआर दर्ज करा कर एसटीएफ को विशेष जांच सौंपी जाएगी. 

बता दें कि वाराणसी जिले में मौजूदा समय में 12 सौ प्राथमिक विद्यालय 208 उच्च प्राथमिक विद्यालय 398 कम अपोजिट विद्यालय सहित 1806 प्रसिद्धी विद्यालय संचालित है. इन विद्यालयों में मौजूदा समय में दो लाख 95 हजार बच्चे पंजीकृत हैं. मिर्जापुर जनपद में 7131 पंजीकृत कर्मचारी है इसमें से सरकारी 8735 कर्मचारी है. तकरीबन 8468 कर्मचारियों का सत्यापन पूर्ण हो चुका है. 

होली से पहले जनता को मिलेगा तोहफा, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे को लेकर आई ये खबर

वर्तमान समय में 183 कर्मचारियों ने सत्यापन नहीं कराया है. बेसिक शिक्षा अधिकारी गौतम प्रसाद ने बताया है कि शिक्षकों का सत्यापन शासन की मंशा नेहरू प्राथमिकता पर कराया जा रहा है. जिन कर्मचारियों ने सत्यापन नहीं कराया है वह अपना तत्काल सत्यापन करा लें अन्यथा की स्थिति में उनके खिलाफ कानूनी प्राथमिकी दर्ज कर जांच कराई जाएगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें