वाराणसी:तीन हत्याओं का आरोपी पुलिस को करता रहा गुमराह

Smart News Team, Last updated: 06/08/2020 05:57 PM IST
  • वाराणसी.मुख्य आरोपी नीलकंठ लगातार बदलता रहा अपना बयान - सीसीटीवी में कैद हुई फुटेज उसके बाद कबूल किया गुनाह मृतक के परिजनों ने आरोपी को पकड़ने पर दिया धन्यवाद.
आरोपी लगभग एक वर्ष तक पुलिस को गुमराह करता रहा 

वाराणसी। वाराणसी में तीन हत्याओं का आरोपी लगभग एक वर्ष तक पुलिस को गुमराह करता रहा। पुलिस भी उसकी मासूमियत व सवाल-जवाब पर कभी संदेह नहीं कर पाई जिसके चलते वह 10 माह तक पुलिस को चकमा देता रहा।

दरअसल मडुवाडीह थाना क्षेत्र के लहरतारा स्थित सुमित श्रीवास्तव की हत्या का आरोप मृतक के भाई हिमांशु द्वारा नीलकंठ जायसवाल पर लगाया जा रहा था। नीलकंठ के ऊपर दो हत्याओं के और आरोप लगे हुए हैं।

पुलिस शुरुआती दौर में नीलकंठ की बातों में आ गई जिससे नीलकंठ पुलिस के संदेह के दायरे से बाहर हो गया लेकिन मृतक के भाई हिमांशु द्वारा लगातार दबाव बनाए जाने के बाद पुलिस हरकत में आई। इसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाले। आरोपी सीसीटीवी कैमरे की जद में नजर आ रहा है। उसने पुलिस से झूठ बोला था।

इसके बाद पुलिस ने नीलकंठ से सख्ती की तो नीलकंठ ने सब कुछ सच सच उगल दिया। नीलकंठ ही हिमांशु के भाई को अपने साथ गाड़ी पर बिठाकर लहरतारा स्थित मंदिर के पास ले गया था जहां उसने उसकी हत्या कर लाश नदी में फेंक दी।

हिमांशु ने बताया कि 22 अक्टूबर 2019 से ही उसका भाई सुमित गायब है। अचानक से भाई के गायब होने पर हिमांशु को संदेह होने लगा। जिस पर हिमांशु ने स्थानीय पुलिस को सूचना दी। आरोप है कि शुरुआत में पुलिस ने मामले की सही तरीके से छानबीन नहीं की। वरना उसके भाई के कातिलों की शिनाख्त भी पहले हो जाती और साथ ही भाई की लाश भी मिल सकती थी। बाद में पुलिस द्वारा सक्रियता किए जाने पर परिजनों ने पुलिस को धन्यवाद ज्ञापित किया।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें