वाराणसी प्रशासन ने आवासीय स्कूल के लिए मुसहर बस्ती पर चलाया बुलडोजर, बिना नोटिस दिए गिराए घर

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Sat, 30th Oct 2021, 5:05 PM IST
  • वाराणसी प्रशासन ने अटल आवसीय विद्यालय के लिए मुसहर बस्ती के लोगों का घर बुलडोजर से ढहाया दिया. जिसके बाद मुसहर बस्ती के लोग इसको लेकर प्रदर्शन कर रहे है. वहीं बस्ती के कई लोगों के पास जमीन की खतौनी तक है. उसके बावजूद भी उनका घर ढहा दिया गया.
वाराणसी प्रशासन ने आवासीय स्कूल के लिए मुसहर बस्ती पर चलाया बुलडोजर, बिना नोटिस दिए गिराए घर(file photo)

वाराणसी. वाराणसी प्रशासन अचानक रोहनिया थाने के करसड़ा इलाके में मुसहर बस्ती पहुंच गए. इसके बाद वाराणसी प्रशासन ने मुसहर बस्ती के लोगों को बिना कोई नोटिस दिए हुए ही उनके घरों पर बुलडोजर चला दिया. जिसके चलते अब मुसहर बस्ती के लोग बेघर हो गए है. इतना ही नहीं जिनके घरों पर बुलडोजर चलाया गया उनमें से कई लोगों के पास जमीन की खतौनी भी मौजूद है. वहीं वाराणसी प्रशासन ने मुसहर बस्ती को अटल आवासीय विद्यालय बनाने के लिए ढहाया है. 

वाराणसी प्रशासन द्वारा मुसहर बस्ती के लोगों का घर ढहाए जाने के बाद उन्होंने इसके खिलाफ हाथों में नारे लिखे हुए तख्तियां लेकर सड़कों पर निकले. साथ ही उन्होंने इसको लेकर प्रदर्शन भी किया. मुसहर बस्ती के लोगों का कहना है कि वह यहां पर कई सालों से रह रहे है. इसके बावजूद भी उनके घरों पर बुलडोजर चढ़ा दिया गया. साथ ही घरों को गिराने के दौरान पीएसी भी बुलाई गई. जिससे वह इसका विरोध भी नहीं कर सके. 

वाराणसी के एक घर की छत पर पाकिस्तान का झंडा लहराया, तनाव के हालात बने, युवक अरेस्ट

इतना ही नहीं मुसहर बस्ती के लोगों ने बताया कि उन्हें यहां से हटाकर पुनर्वास किया जा रहा है. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि जहां पर उन्हें शिफ्ट किया जा रहा है वह इलाका बाढ़ग्रस्त है. जहां पर प्रत्येक साल नदी का पानी पहुंच जाता है. मुसहर बस्ती के लोगों ने बताया कि लेखपाल, कानूनगो और तहसीलदार तकरीबन एक महीने से इसके लिए परेशान कर रहे थे. उन्होंने इसके लिए कोई पूर्व नोटिस भी नहीं दिया और घर गिराना शुरू कर दिया. जब इसका विरोध किया तो उन्होंने पीएससी फोर्स बुला ली.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें