वाराणसी: बिजली कर्मचारियों की हड़ताल से निपटने के लिए प्रशासन के पूरे इंतजाम

Smart News Team, Last updated: 05/10/2020 05:03 PM IST
  • इसके लिए कमिश्नर कार्यालय, नगर निगम व बिजली विभाग में कई कंट्रोल रूम भी बनाए गए हैं. ऐसी स्थिति के लिए पूरा खाका भी तैयार कर लिया है. इसकी तैयारी बहुत पहले से ही कर ली गयी थी.
वाराणसी में बिजली कर्मचारियों की हड़ताल

वाराणसी: पूर्वांचल डिस्कॉम के निजीकरण के खिलाफ बिजली कर्मचारियों द्वारा आज पाँच अक्टूबर कार्य बहिष्कार की घोषणा के बाद आम जनता को परेशान होने की ज़रूरत नहीं है. वाराणसी प्रशासन ने इसके लिए पांच हजार से अधिक कर्मचारियों की व्यवस्था कर ली है व ऐसी स्थिति में उनको काम पर लगाने के लिए पूरा खाका भी तैयार कर लिया है. इसकी तैयारी बहुत पहले से ही कर ली गयी थी. इसमें प्राइवेट कर्मचारी, कांट्रेक्ट पर बिजली विभाग में करने वाले कर्मचारी, सेवानिवृत्त अधिकारी, कर्मचारी व डिप्लोमा होल्डर की लिस्ट भी तैयार है.

इसके साथ ही कमिश्नर कार्यालय, नगर निगम व बिजली विभाग में कई कंट्रोल रूम भी बनाए गए हैं. जिसमें पूर्वांचल निगम लिमिटेड के कंट्रोल रूम के कर्मचारी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं. कर्मचारियों ने पूरी निष्ठा व ताकत से काम करने का भरोसा अधिकारियों को दिलाया है. विद्युत कार्मिकों की प्रस्तावित हड़ताल के दृष्टिगत कमिश्नर के आदेश पर कमिश्नरी कार्यालय में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है, जो कि रविवार रात से ही चालू हो गया.

PUVVNL निजीकरण विरोध में बिजलीकर्मी आज से हड़ताल पर, आपूर्ति नहीं होगी प्रभावित

अधिकारियों व कर्मचारियों की चार शिफ्टों में 24 घंटे ड्यूटी सुनिश्चित कराई जाएगी. कंट्रोल रूम में सुबह छह बजे से दोपहर बारह बजे तक, दोपहर बारह से शाम छह बजे तक शाम छह से रात बारह बजे से और फिर रात बारह बजे से सुबह छह बजे तक छह छह घंटे तक बिजली से जुड़ी समस्याओं के इलाज अलग अलग नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की गई है. कंट्रोल रूम नंबर 0524-2502158 पर किसी भी समय फोन कर विद्युत संबंधी समस्याओं का निस्तारण कराया जा सकता है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें