मरीजों से मनमाने पैसे वसूलने पर एंबुलेंस चालक जाएंगे जेल, लाइसेंस होगा रद्द

Smart News Team, Last updated: Sat, 8th May 2021, 4:30 PM IST
  • कोरोना काल में मरीजों को लूटने वाले एंबुलेंस चालकों को चिह्नित करके उनके खिलाफ मुकदमा दर्जा किया जाएगा और उन्हें जेल भेजा जाएगा. साथ ही एंबुलेंस को भी सीज किया जाएगा. इसके अलावा उनका ड्राइविंग लाइसेंस परिवहन विभाग को भेज कर उसे रद्द करा दिया जाएगा.
मरीजों से मनमाने पैसे वसूलने पर एंबुलेंस चालक जाएंगे जेल, लाइसेंस होगा रद्द (प्रतीकात्मक फोटो)

वाराणसी. वाराणसी में मरीजों से अधिक पैसे वसूलने वाले एंबुलेंस चालकों पर पुलिस ने कड़ा रुख अपना लिया है. पुलिस ने इन एंबुलेंस चालकों को सख्त हिदायत दी है कि इस महामारी के दौर में कोई चालक मरीजों को लूटने की कोशिश करेगा, तो उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करके उसे जेल भेजा जाएगा. साथ ही एंबुलेंस को भी सीज करके ड्राइविंग लाइसेंस को रद्द किया जाएगा. पुलिस इन एंबुलेंस चालकों की मनमानी रोकने के लिए समय-समय पर सादे कपड़े में गश्त भी लगाएगी.

शनिवार को नगवा चौकी प्रभारी श्रीप्रकाश सिंह ने फोर्स के साथ बीएचयू ट्रामा सेंटर मोड़ से लेकर नरिया रश्मिनगर मोड़ तक गश्त करके सड़क के किनारे खड़े एंबुलेंस चालकों को कोरोना काल में मरीजों से मनमाने पैसा वसूलने के लिए सख्त हिदायत दी. थाना प्रभारी ने फटकारते हुए उनसे कहा कि अगर किसी चालक के खिलाफ अधिक पैसे लेने की शिकायत मिलती है तो गाड़ी के नंबर के आधार पर उन्हें चिह्नित करके मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा जाएगा. साथ ही परिवहन विभाग को रिपोर्ट भेजकर ड्राइविंग लाइसेंस को भी रद्द करा दिया जाएगा.

शराब ठेका बंद, कोरोना गाइडलाइन को ताक पर रख कर बागों में पिलाई जा रही ताड़ी

इस संबंध में नगवा चौकी प्रभारी ने बताया कि हम खुद एंबुलेंस चालकों की मनमानी को रोकने समय-समय पर सादा कपड़ों में घूमेंगे. जिससे ऐसे चालकों की पहचान की जा सके. उन्होंने बताया कि जितने भी अस्पताल बीएचयू ट्रामा सेंटर से लेकर लंका सामने घाट इलाके में है. इन सभी के बाहर फैंटम की मदद से मरीजों के डिस्चार्ज होने पर उन्हें घर पहुंचाने के लिए कोई एंबुलेंस वाला उनसे अधिक पैसा मांगता है. तो उनके नंबर पर फोन करके इसकी शिकायत की जा सकती है. पुलिस तय दाम पर सभी को एंबुलेंस से घर पहुंचाएगी.

राहत: DRDO ने BHU में बनाया 750 बेड का अस्थाई अस्पताल,जानिए क्या होंगी सुविधाएं

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें